गैरसैण: उत्तराखंड की ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण (भराड़ीसैंण) में विधानसभा का बजट सत्र आज से शुरू हो गया है। सदन की कार्यवाही 11 बजे राज्यपाल के अभिभाषण से प्रारंभ हुई। इसके पूर्व राज्यपाल को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। राष्ट्र गान के साथ सदन की कार्यवाही शुरू की गई। राज्यपाल बेबी रानी मौर्य के बजट अभिभाषण से पहले ही कांग्रेस ने बेरोजगारी के मुद्दे पर सदन से वॉकआउट कर दिया।

राज्यपाल अभिभाषण में राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने प्रदेश सरकार द्वारा किए गए कार्यों का उल्लेख किया, जिसके तहत पेंशनरों को जीवन प्रमाण पत्र डिजिटल माध्यम से प्रदान करने की एकीकृत वित्तीय प्रबंधन प्रणाली को विकसित किया गया है। इसके अलावा जीएसटी मित्र है, व्यापारी बीमा योजना लागू की गई है, प्रदेश में अवस्थापना सुविधाओं के सृजन के लिए पीपीपी नीति 2019 प्रख्यापित की गई है। माध्यमिक विद्यालयों को पर्यावरणीय शिक्षा से जोड़ने और गांव के आसपास की समस्याओं को समझने के लिए स्मार्ट इको क्लब की स्थापना की।

इसके अलावा बहुप्रतीक्षित जमरानी बांध बहुउदेशीय परियोजना, गोला नदी पर हल्द्वानी शहर से 10 किलोमीटर अपस्ट्रीम में उसका निर्माण किया जाएगा। मौसम संबंधी पूर्वानुमान की सटीकता के लिए मुक्तेश्वर में डॉप्लर रडार की स्थापना अंतिम चरण में है। सॉन्ग नदी देहरादून में 1680 करोड़ की लागत से सॉन्ग पेयजल बांध परियोजना बनाया जाना प्रस्तावित है। जिला कारागार देहरादून हरिद्वार उप कारागार रुड़की में क्लोज सर्किट टेलीविजन कैमरे लगाए जाने गतिमान में है।

वहीं राज्य सेवाओं शिक्षण संस्थाओं में दिव्यांगों के लिए 3% आरक्षण को बढ़ाकर 4% किया गया है। अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के माध्यम से समूह के 4346 रिक्त पदों पर चयन की कार्यवाही प्रारंभ की गई है। राज्य में सुराज व सुशासन की स्थापना के लिए मुख्यमंत्री हेल्पलाइन 1905 की स्थापना की गई है। इसके अलावा प्रदेश सरकार के विभिन्न कार्यो को भी बताया गया।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here