देहरादून

हम सभी जानते है कि
उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव को अभी लगभग डेढ़ साल का समय शेष है,
लेकिन सत्तारूढ़ भाजपा पूरी शिद्दत के साथ चुनावी तैयारियों में जुट गई है।
ओर पार्टी के समक्ष सबसे बड़ी चुनौती अपने पिछले प्रदर्शन को दोहराने की है।
ख़बर है कि
सोमवार को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के साथ भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने चुनावी तैयारियों को लेकर लंबी मंत्रणा की।
ओर निकलर बात आई कि
आगामी चार अक्टूबर को देहरादून में होने जा रही प्रदेश कोर ग्रुप की बैठक है
जिसमे में भी चुनाव के लिए रणनीति पर मंथन किया जाएगा।
तो सूत्र कहते है कि आप को लेकर भी चर्चा हो सकती है

बता दे कि साल 2017 के विधानसभा चुनाव में भाजपा ने 70 में से 57 सीटों पर जीत दर्ज की। उत्तराखंड के अलग राज्य बनने के बाद यह पहला अवसर रहा, जब सत्ता तक पहुंची किसी पार्टी ने इतना भारी भरकम बहुमत हासिल किया।
तो कांग्रेस का प्रदर्शन सबसे खराब रहा।
ओर कांग्रेस महज 11 सीटों पर सिमट गई।
वही साल 2014 की ही तरह पिछले साल हुए लोकसभा चुनाव ( 2019) में भी भाजपा ने राज्य की सभी पांच सीटों पर परचम फहराया।
इसके अलावा नगर निकाय चुनाव और त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में भी भाजपा अपनी मुख्य प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस पर भारी पड़ी।

ओर इसी लिहाज से देखा जाए तो भाजपा के समक्ष अगले विधानसभा चुनाव में सबसे बड़ी चुनौती यही रहेगी कि वह अपने 57 सीटों पर जीत के प्रदर्शन को दोहराए। यही वजह है कि पार्टी बगैर समय गंवाए तैयारियों में जुट गई है।
सुना है मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत के बीच मंगलवार शाम मुख्यमंत्री आवास पर चुनावी तैयारी पर चर्चा हुई।
ओर इस दौरान पार्टी की रणनीति के मुख्य बिंदुओं पर बात हुई ऐसा कहा जा रहा है
आगामी चार अक्टूबर को देहरादून में पार्टी के प्रदेश कोर ग्रुप की बैठक है। इसमें प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू के अलावा कुछ अन्य केंद्रीय नेताओं के शामिल होने की भी संभावना है। इस बैठक में चुनावी तैयारी पर ही फोकस रहेगा। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने कोर ग्रुप की बैठक बुलाए जाने की पुष्टि भी की। 


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here