ब्रेकिंग देहरादून

हमारे राज्य के ईमानदार पूर्व मुख्यमंत्री भुवन चंद खंडूरी जो कि अपनी ईमानदार छवि के नाम से पहचाने जाते हैं जो उत्तराखंड के जन नेता है जिनको को पूरा भारत भी सम्मान की नजर से देखता है ओर खडूडी स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी वाली सरकार में केंद्रीय मंत्री रह चुके हैं और जनरल खंडूरी के कामों को कौन नहीं जानता लेकिन आज एक भाजपा विधायक महेंद्र भट्ट ने भगवान जाने किस मंशा से जनरल खंडूड़ी पर अनुशासनहीनता की कार्रवाई होनी चहिये वाली बात सोशल मीडिया में बोल डाली ।
बोलता उत्तराखंड के सूत्र बताते हैं कि यह सब तब हो रहा है जब मुख्यमंत्री जनरल खडूडी ने कहा कि मेरा बेटा मनीष का जो भी निर्णय होगा या है वो उसका व्यक्तिगत निर्णय होगा।
आपको बता दें कि खबर है कि जनरल खंडूड़ी के बेटे मनीष खंडूड़ी कांग्रेस का दामन थाम सकते हैं और इन सभी बातों को जानकर और सुनकर राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट सहित लोकसभा चुनाव प्रभारी थावरचंद गहलोत ने जनरल खंडूरी से उनके दिल्ली आवास में मुलाकात भी की , लंबी चली मुलाकात के बाद भी जनरल खंडूरी ने यही कहा कि मैं भाजपा का था भाजपा का हूं और भाजपा का रहुगा ।
मगर जब मनीष खंडूरी अपना फैसला ले रहे हैं तो यह उनका व्यक्तिगत मेरा इससे कोई लेना देना नही
बस फिर क्या पूरी भाजपा अपनी रणनीति में जुटी है तो उसी बीच सोशल मीडिया में ईमानदार खंडूड़ी के लिए इस बुढ़ापे में बद्रीनाथ विद्यायक महेन्द्र भट्ट ने एक ऐसा बयान दे डाला उन्होंने कहा है कि जनरल पर अनुशासनात्मक कार्रवाई होनी चाहिए

सोशल मीडिया में भाजपा विधायक ने उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मेजर जनरल भुवन चंद खंडूरी पर की अनुशासनात्मक कार्रवाई की मांग

बदरीनाथ विधायक महेंद्र भट्ट ने तंज कसते हुए कहा- जो व्यक्ति अपने परिवार को ही भाजपा से नहीं जोड़ सका, वो डाक्टर हेडगेवार, दीनदयाल उपाध्याय और श्यामा प्रसाद मुखर्जी के विचारों से दूर है

बद्रीनाथ विधायक महेंद्र भट्ट ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट और मुख्यमंत्री के भुवन चंद खंडूरी के घर जाने पर भी जताया ऐतराज


बहराल जिस तरह से विधायक ने ये सब सोशल मीडिया में लिखा है ।उन्होंने सोचा कि इससे उनके नंबर भाजपा में बढ़ जाएंगे तो ये गलत सोचा उन्होंने
आपको बता दे पूर्व सीएम कोई एक विधानसभा में सीमित नेता नही रहे उत्तराखंड में वो पूरे राज्य के जन नेता है ।
जिसे पूरा पहाड़ समझता है और इस समय चुनाव से पहले खंडूड़ी के लिए इस तरह से बयान देने के बाद विपक्ष इसे मुदा बना देगा
अगर खंडूड़ी का बेटा कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा तो ये एक नही पूरी पाँचो सीट पर कांग्रेस के लिए बढ़त होगी
ओर जनता की नज़र में कांग्रेस यही कहेगी की ये देखो भाजपा का चाल चरित्र चेहरा
अपने दो बार के मुख्यमंत्री रहे ईमानदार जर्नल के लिए ये सब इस बुढ़ापे में बोल रहे है
ओर उत्तराखंड भी इस बात को समझेगा
बिना खंडूड़ी के कुछ बोले
विधायक की इस पोस्ट ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ओर भाजपा के लिए ओर मुसीबत खड़ी कर दी है ।
अब इसे क्या समझा जाये खंडूड़ी के लिये विधायक का ज़हर
या इस कम दिनो मैं मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र के लिए अग्नि परीक्षा में सबसे बड़ा षड्यंत्र या कुछ और
क्योंकि अगर उत्तराखंड लोकसभा सीट की पाँच मै से 2 सीट भी कम हुई तो सीएम त्रिवेन्द्र के राजनीतिक विरोधी पहाड़ पुत्र खंडूड़ी के बाद दूसरे ईमानदार सीएम को कुर्सी से हटाने के लिए चाल चल देगे या समझो चल चुके है
जिसमें महेंद्र भट्ट के इस बयान ने आग में घी डाल दिया जो अभी नही दिख रहा है पर होली के बाद प्रचार के दौरान खूब दिखेगा वो भी पूरी पाँचो लोकसभा सीट पर
उफ्फ क्या कर डाला विद्यायक ने सभी जानते है कि पिछले 2 सालों के अंदर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत को मुख्यमंत्री की कुर्सी से हटवाने के लिए उनके राजनीतिक विरोधियों ने खूब चाल चली पर वे जीरो टालरेंस वाले मुख्यमंत्री का बाल भी बांका ना कर सके
ओर ये कोशिशें आज भी जारी है लिहाजा सावधान जीरो टालारेश वाले मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत जी ध्यान रहे आपके पार्टी से या विद्यायक कोई वो बयान ना दे जिस पर विपक्ष को मौका मिल जाये
बहराल राजनीति क्या होती है।
ओर राजनीति में कोई किस हद तक चला जाता है ।
ये बात राजनेताओ से बेहतर कोंन समझता है जानता है।
अब देखो ना हमारे शरीफ ओर ईमानदार श्री बद्रीनाथ विधानसभा के विद्यायक ने जो कुछ सोशल मीडिया में डाला अपनी फेसबुक वॉल पर लिखा वो उनके हिसाब से ठीक होगा।उनका व्यक्तिगत होगा, ओर पार्टी के प्रति खंडूड़ी के प्रति उनकी निष्ठा होगी।
पर चुनाव से कुछ दिन पहले इस प्रकार की पोस्ट से बीजेपी को ही नुकसान होगा।
ओर भाजपा को नुकसान मतलव जीरो टालरेश वाले मुख्यमंत्री सीएम त्रिवेंद्र को बढ़ा नुकसान ।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here