ख़बर है कि परमधाम न्यास के संचालक और क्रांति गुरू चंद्रमोहन महाराज पर उन्हीं के आश्रम से जुड़ी दो महिलाओं ने दुष्कर्म करने का आरोप लगा डाला है।
वही आज देहरादून के राजपुर पुलिस ने शनिवार शाम को घटनास्थल का निरीक्षण कर सहस्रधारा रोड पर मौजूद आश्रम से जुड़े लोगों के कलमबंद बयान किये है
मीडिया को जानकारी अनुसार पुलिस अधीक्षक नगर श्वेता चौबे ने बताया कि राजपुर थाने में शुक्रवार की रात को दो महिलाओं ने पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई कि वे परमधाम न्यास मुख्यालय दौराला के संचालक और क्रांति गुरु चंद्रमोहन महाराज के मिशन से जुड़ी है।
उन्होंने कहा कि चंद्रमोहन महाराज ने 18 जून 2018 को उनकी शादी कराई थी। चंद्रमोहन महाराज का सहस्त्रधारा के शेरा गांव में आश्रम है।
वही जानकारी अनुसार 22 जून को पीड़ितों में से एक महिला मीटिंग में भाग लेने सहस्त्रधारा आश्रम आई थी। दिन में मीटिंग के बाद रात में वह आश्रम के टीन शेड के नीचे सो रही थी। इस दौरान आश्रम से जुड़ी दो महिलाओं ने उसे जगाया और कहा कि चंद्रमोहन महाराज ने उन्हें कमरे में बुलाया है।
वही आरोप है कि उक्त महिला कमरे में गई तो चंद्रमोहन महाराज ने अपने साथी कुलदीप के साथ मिलकर उसके साथ दुष्कर्म किया और धमकी दी कि यदि मुंह खोला तो उसकी हत्या कर दी जाएगी। इसी प्रकार साथी महिला से 17 जून को चंद्रमोहन महाराज ने दुष्कर्म किया।
वही पीड़ित महिला को धमकी दी गई कि उसकी अश्लील वीडियो क्लिप बना ली गई है। अगर उसने मुंह खोला तो उसे वायरल कर दिया जाएगा। ख़बर है पीड़िताओं की तहरीर पर उनका मेडिकल कराकर मुकदमा दर्ज कर लिया गया। जिसमें चंद्रमोहन महाराज, कुलदीप और दो अन्य महिलाओं को आरोपी बनाया गया है। विवेचना में आने वाले तथ्यों के आधार पर पुलिस अग्रिम कार्रवाई करेगी।
प्रेस नोट :- थाना राजपुर, देहरादून।*

*थाना राजपुर पर दुष्कर्म से संबंधित अभियोग पंजीकृत*

दिनाँक 23 अगस्त 2019 को थाना राजपुर पर दो महिलाओं ने आकर लिखित शिकायत देते हुए आरोप लगाया कि वह 25 वर्षीय महिला है, 2013 से परमधाम न्यास मुख्यालय बलिदपुर दौराला मेरठ संचालक जनेऊ क्रांति चंद्रमोहन महाराज के मिशन से जुड़ी थी और उक्त परमधाम न्यास में महानिरीक्षक के पद पर कार्यरत थी। उक्त चंद्रमोहन महाराज ने ही प्रार्थनी कि शादी दिनाँक 18/6/18 को कराई थी, उक्त महाराज का आश्रम व निवास ग्राम शेरा सहस्रधारा में है, वह वही पर मिशन से जुड़ी महिलाओं की मीटिंग बुलाई जाती थी। प्रार्थनी दिनाँक 22/06/18 की महिला मीटिंग में शामिल होने के लिए ग्राम शेरा सहस्रधारा के आश्रम में गयी थी, दिन में मीटिंग होने के बाद रात को प्रार्थनी उक्त आश्रम के टीन शेड में सो रही थी, समय करीब रात्रि 12 बजे उक्त आश्रम के जनेऊ क्रांति अध्यक्ष कुलदीप निवासी मुज़फ्फरनगर की पत्नी तथा आश्रम के श्रीमंत नीरज की पत्नी अलका प्रार्थनी के पास टिन शेड में आई और प्रार्थनी से कहा कि तुझे बहुत जरूरी काम से चंदमोहन महाराज ने अपने कमरे में बुलाया हैं, प्रार्थनी बिना किसी शक के कमरे में गयी, तो वह पर चंदमोहन महाराज व कुलदीप दोनों थे, दरवाजा अंदर से बंद कर लिया और दोनों ने प्रार्थनी के साथ जबरदस्ती बलात्कार किया तथा दुष्कर्म के बाद धमकी दी कि यदि कही बताया तो तुझे जिंदा नही छोड़ेंगे तथा इसी प्रकार मेरी साथी महिला ने भी मुझे बताया था कि दिनाँक 17/06/19 को इसी प्रकार चंदमोहन महाराज ने उसके साथ भी बलात्कार किया था, जो मेरे साथ अभी राजपुर थाने में आई है, उसने मुझे यह भी धमकी दी कि मैंने तेरे वीडियो क्लिप भी बना ली है, चंद्रमोहन महाराज अत्यंत प्रभावशाली व ऊंची पहुच वाला व्यक्ति है, प्रार्थनी व मेरी साथी उससे डर की वजह से आज तक शिकायत नही की थी, प्रार्थनी अब उक्त के विरुद्ध कार्यवाही करना चाहती है, उक्त मामले को गंभीरता से लेते हुए तुरंत उचित धाराओ में अभियोग पंजीकृत कर इसकी सूचना तुरंत उच्च अधिकारीगणों को दी गयी, जिस पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा उक्त प्रकरण की निष्पक्ष जांच कर आवश्यक वैधानिक कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया। उक्त मामले की विवेचना प्रारम्भ की गई, रात्रि को ही पीड़िताओं का मेडिकल परीक्षण कराया गया। अन्य तथ्यों पर भी विवेचना की जा रही है, सभी प्राप्त सही तथ्यों के आधार पर अग्रिम विधिक कार्यवाही अमल में लायी जाएगी।





LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here