उत्तराखण्ड के चमोली गढ़वाल से खबर है बता दे को
घाट- भेंटी मोटर मार्ग पर सेंती के पास एक बुलेरो मैक्स खाई में गिरी इस गाड़ी मे स्कूल के बच्चे बेठे हुये थे

जानकारी अनुसार वाहन में श्री गुरू राम राय व हिमालय पब्लिक स्कूल के बच्चे बैठे थे इस गाड़ी मे ,6 बच्चों सहित आठ लोग घायल बताए जा रहे है जिनको तत्काल एम्बुलेंस से कर्णप्रयाग रेफर किया गया जहा उनका इलाज जारी है।

इस दर्दनाक हादसे के बाद मासूम छात्रों के परिवार वाले कर्णप्रयाग अस्पताल पहुँच गए है जहा उनका इलाज जारी है।

अब पूरी जानकारी अब तक कि

उत्तराखंड से अब पूरी ख़बर स्कूली बच्चों से भरी मैक्स खाई में गिरी, शिक्षक समेत आठ छात्र घायल, चार हायर सेंटर रेफर हो चुके है ,नाम पता सब ख़बर मै
आपको दोपहर मैं ही बता दिया था कि उत्तराखंड के चमोली जिले के घाट-भेंटी मोटर मार्ग पर बच्चों को स्कूल से घर छोड़ने जा रही मैक्स सैंती गांव के समीप दुर्घटनाग्रस्त होकर लगभग दस मीटर नीचे खाई में जा गिरी। ओर इस वाहन में छह स्कूली बच्चे, शिक्षक व चालक समेत आठ लोग सवार थे।
ख़बर विस्तार से अब ये है कि दुर्घटना में शिक्षक व स्कूली बच्चे घायल हो गए है जब इस दुर्घटना की सूचना मिली तो ग्रामीणों द्वारा सभी घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र घाट में भर्ती कराया गया फिर वहां प्राथमिक उपचार के बाद चार स्कूली छात्रों को हायर सेंटर रेफर कर दिया गया था ख़बर लिखे जाने तक जबकि अन्य घायलों का स्वास्थ्य केंद्र में ही उपचार अभी किया जा रहा है।
ये सब हादसा घाट-भेंटी मोटर मार्ग पर हुवा ये वाहन दोपहर में विद्यालय से अवकाश के बाद स्कूली बच्चों को लेकर घाट से भेंटी गांव की ओर जा रहा था। इस दौरान सेंती गांव के समीप वाहन अचानक अनियंत्रित होकर करीब दस मीटर नीचे गिरकर एक पेड़ पर अटक गया। अगर ये पेड़ ना होता तो कुछ भी हो सकता था
इस वाहन में सवार इंदू मैंदोली महज 8 साल पुत्री भूपेश मैंदोली, दीपक महज 5 साल पुत्र भूपेश मैंदोली, खुद भूपेश मैंदोली पुत्र कपिलदेव   सलोनी मात्र 12 साल पुत्री मनोज बिष्ट, कनिष्का महज 6 साल पुत्री अशोक सिंह, सुमित 10 साल का पुत्र मनोज बिष्ट सभी ग्राम-लांखी (घाट), आदर्श कुल 4 साल का पुत्र देवेंद्र प्रसाद, ग्राम-सेंती और दिनेश लाल पुत्र मोहन लाल (चालक), ग्राम-बांजबगड़ (घाट) घायल हो गये।
वही सीएचसी घाट में प्राथमिक उपचार के बाद इंदू, भूपेश, दीपक, कनिष्का, आदर्श और दिनेश को हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है। सूचना मिलने पर तहसील प्रशासन और स्थानीय लोगों ने मौके पर पहुंचकर घायलों को सीएचसी घाट में भर्ती करवाया। जबकि सुमित और सलोनी पर कम चोटें होने के कारण उनका उपचार सीएचसी घाट में चल रहा है।
वही आरोप लगा है कि इस हादसे की सूचना मिलने के बाद भी मौके पर पुलिस टीम नहीं पहुंची। जिससे लोगों में गुस्सा है। लोगों का कहना है कि घाट पुलिस चौकी से मात्र दो किलोमीटर की दूरी पर दोपहर में लगभग एक बजकर पांच मिनट पर वाहन दुर्घटना हुई। लोगों ने इसकी सूचना घाट चौकी को दे दी थी
लेकिन आधे घंटे बाद भी पुलिस टीम मौके पर नहीं पहुंची। जबकि घाट बाजार के व्यवसायियों को जैसे ही हादसे की सूचना मिली तो वे मौके पर मदद के लिए दौड़ पड़े। स्थानीय लोगों ने खाई से स्कूली बच्चों को निकालकर अस्पताल तक पहुंचाया।
वही चौकी प्रभारी ध्वजवीर पंवार का कहना है कि दुर्घटनास्थल चौकी से करीब चार किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। उन्हें दुर्घटना की सूचना पच्चीस मिनट बाद दी गई। वे स्वयं भी मौके पर पहुंचे थे। घायलों को अलग-अलग वाहनों में अस्पताल तक पहुंचाया गया। बहराल है बाबा केदारनाथ जी भगवान बद्रीनाथ जी आपके आशीष से इन सबकी जान बच गई इन सब पर अपना आशीष बनाये रखना।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here