दुःखद ख़बर उत्तराखंड के टिहरी जिले से है जहा बता दे कि जंगली मशरूम की सब्जी खाने से बीमार चल रही अनीता देवी और उसकी बेटी शिवानी ने भी उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। दुःखद जबकि एक अगस्त को अनीता देवी के चार साल के पुत्र अभिराज की भी देहरादून में इलाज के दौरान मौत हो गई थी दुःखद
दुःखद ख़बर ये है कि मशरूम खाने से बीमार हुए परिवार के दो अन्य सदस्य भी अभी जिंदगी और मौत के बीच में जूझ रहे हैं। बता दे के  थौलधार ब्लॉक के ग्राम गैर मतलब नगुण निवासी के एक ही परिवार के पांच सदस्य 30 अगस्त रात को जंगली मशरूम की सब्जी खाने से बीमार हो गए थे।
वही अगले दिन परिवार के लोगो को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कंडीसौड़ में प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई थी।  लेकिन फिर रात को अभिराज की तबीयत बिगडने पर परिजन उसे उपचार के लिए देहरादून कस आये पर एक अगस्त को देहरादून के एक निजी अस्पताल में उपचार के दौरान 4 साल के अभिराज ने दम तोड़ दिया था। इसके बाद अनीता देवी, शिवानी सहित शिवदास और छटांगी देवी को भी देहरादून इलाज के लिए भेजा गया था
ओर फिर सोमवार को देहरादून के निजी अस्पताल में सुबह अनीता देवी, उसकी बेटी शिवानी ने भी दम तोड़ दिया है। वहीं, शिवदास और उनकी पत्नी छटांगी देवी अभी  आईसीयू में भर्ती हैं।  मां-बेटी की मौत की खबर सुनकर गांव में मातम पसरा हुआ है। हर कोई दुःखी है।
ओर हम भी इस दुःखद ख़बर को सुनकर दुःखी है। बस यही कह सकते हैं निवेदन कर सकते है आप से कि आप अपनी सेहत ओर अपने खान पान को लेकर जागरूक रहे।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here