भट्टनगर गाँव के 40 परिवार जीते डर के साये मे बरसात इनके लिए तबाही लाती है

उत्तराखंड़ मे मानसून समय से पहले आ चुका है जो पहाड़ वासियों के लिये अभी तक सबसे बडी परेशानी बना हुवा है लगातार पहाड़ो मे हो रही बरसात के कारण रात भर गाँव वाले जाग रहे है।  डर के साये मे उनकी रात भगवान बद्रीविशाल ओर बाबा केदारनाथ का नाम लेकर कट रही है सोमबार को थराली मे बादल फटने से जहा करोड़ो को जन हानि गाँव वालों को हुयी ओर 16 गाँव का रास्ता मुख्य धारा से टूट गया लगभग 45 परिवार सड़क पर आगया है                        वही दूसरी तरफ लगातार हो रही बरसात से बद्रीनाथ हाइवे n.h का पूरा मलवा गौचर नगरपालिका मे मौजूद भटनगर गाँव में आगया है  हरीश न्याल ने बताया किजैसे तैसे  गाँव वालों ने अपनी जान बचाइ पर वो अपने मवेशियों को नही बचा पाए।         आपको बता दे कि गोचर के भटनगर गाँव बद्रीनाथ हाइवे के ठीक नीचे है मतलब ऊपर n.h की सड़क है और सड़क के नीचे भटनगर गाँव जहां 50 परिवारों की जान हर बरसात मे जोखिम पर बन आती है ।           कही बार गाँव वाले स्थानीय विधायक कर्णप्रयाग के सुरेंद्र नेगी को कह चुके है पर विधायक छोटी नालियां बनाकर शांत हो जाते है और तस्वीर मे आप देख रहे होंगे कि किस तरह n.h का मलबा जायद बरसात होने पर भटनगर गाँव मे आता है फिलहाल गाँव वाले जल्द से जल्द सरकार से उचित रास्ता निकालने की माग कर रहे है फिलहाल मवेशियों के दबे होने की जानकारी मिल रही है जान की कोई हानि नही बताई जा रही है

Leave a Reply