बादल फटा मकान, दुकान ,गाड़ी बह गए 16 गाँव मुख्यधारा से टूट गए पूरी रिर्पोट जरूर पढ़े

 

बोलता उत्तराखंड़ के लिए थराली से विनोद चंदोला की पूरी पड़ताल करती रिपोर्ट थराली।   
बोलता उत्तराखण्ड आपको विस्तार से बता रहा है कि सोल घाटी में बादल फटा ओर तबाही पूरे इलाके में मच गई
देर रात हुई बारिश सोल घाटी के लोगो के लिए महज एक बारिश नहीं बल्कि आसमानी आफत बन कर आई ,सोल क्षेत्र में रतगांव के ठीक नीचे ढांडरबगड़ में बादल फटने से भारी तबाही हुई है ढाडरबगड़ में देर रात करीब 12 बजे के आसपास बादल फटने से लगभग 10 दुकाने पानी मे बह गई इसके साथ ही सड़क पर खड़ी 3 मैक्स गाड़ियां,1 बोलेरो 1 कार सहित लगभग 3 मोटरसाइकिल भी बादल फटने से उफनती प्राणमती नदी में बह गए।।       
बादल फटने की सूचना मिलने के बाद तड़के सुबह तहसील प्रशासन और आपदा प्रबंधन की टीमें ओर पुलिस विभाग की टीम मौके पर पहुंची जहां पहुंचकर उपजिलाधिकारी थराली रोहित मीना ने नुकसान का जायजा लिया।      आपको बता दे कि सोल घाटी के लगभग 16 गांव पूरी तरह से मुख्यधारा से हट गए हैं सड़क मार्ग जगह जगह पर टूटने से आवाजाही के विकल्प कम ही बचे हैं थराली तहसील मुख्यालय से लगभग 18 किमी की दूरी पर बसे इन गांवों तक ग्रामीण पैदल आवाजाही करने को मजबूर हैं सड़क मार्ग भी जगह जगह टूटने से तहसील प्रशासन की टीमें भी सोमबार तड़के 4 बजे पैदल ही मौके के लिए रवाना हुई

इस भयंकर कुदरत की इस तबाही में जान की तो अभी तक ख़बर लिखे जाने कोई क्षति नही हुई लेकिन सड़क मार्गो के जगह जगह टूटने ओर ढाडरबगड़ में आये सैलाब में दुकाने और गाड़ियों के बहने से धन की हानि काफी ज्यादा है .        दूरस्थ गांव रतगांव को जोड़ने वाला नव निर्मित मोटरपुल जो कि pmgsy विभाग द्वारा हाल ही में बनकर तैयार हुआ था आसमानी आफत में बह गया आपको बता दे कि रतगांव में कल से हो रहे तालगैर मेले में गए कई व्यापारी सड़क मार्ग ओर पुल टूटने से रतगांव में ही फंसे हुए हैं.   हालांकि प्रशासन की ओर से sdrf की टीमें रतगांव को रवाना कर दी गयी है रतगांव को जोड़ने वाला पुल इससे पहले भी नदी के तेज बहाव में बह चुका है प्रशासन ने नुकसान का जायजा लिया है और साथ ही आपदा के दृष्टिगत सड़क मार्ग से वंचित इन गांवों में खाद्यान्न आपूर्ति भी दुरस्त रखने के निर्देश दिए गए है ।.                 
स्थानीय निवासियों ने बताया कि देर रात बादल फटने से ढाडर बगड़ में 10 दुकाने ओर लगभग 8 गाड़िया बह गई सड़क मार्ग जगह जगह पर टूटने से आवाजाही भी ठप है
वहीं उपजिलाधिकारी थराली रोहित मीणा ने बताया कि प्राप्त जानकारी के अनुसार 12 बजे रात के आसपास ढाडरबगड़ में बादल फटने से 10 दुकाने ओर 8-10 गाड़िया बह गई हैं नुकसान का जायजा लेने के बाद रिपोर्ट तैयार की गई है साथ ही उन्होंने बताया कि दूरस्थ गांवो ओर प्रभावित गांवों में खाद्यान्न संकट न पैदा हो इसके लिए खाद्यान्न आपूर्ति के भी निर्देश दिए गए है और वैकल्पिक मार्ग के तौर पर कुराड़ से पैदल रास्ता आवाजाही के लिए सुनिश्चित किया गया है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here