अपनी जान को खतरा बताने वाले खनन व्यवसायी ने खुद को क्यो गोली मार दी

आपको बता दे कि लालकुआं नैनीताल बरेली रोड के गोरापड़ाव में खनन व्यवसायी ने अपनी लाइसेंसी बंदूक से खुद को गोली मार कर अपनी ज़िन्दगी को अलविदा कह दिया इस दुःखद घटना के बाद से पूरे परिजनों में कोहराम मचा है सबका रो रो कर बुरा हाल है ।
जानकारी अनुसार रविवार दोपहर को गोरापड़ाव निवासी चंचल सिंह राठौर (50 वर्ष) पुत्र कैप्टन योगा सिंह ने घर बाहर खलियान में ही अपनी लाइसेंसी दोनली बंदूक से कनपटी में गोली मार दी। जिसके बाद वह जमीन पर गिर पड़े। ओर मकान की दीवार खून के छीटे से रंग गई। जब तक गोली की आवाज सुनकर परिजन बाहर आये तब तक चंचल ने दम तोड़ दिया था
चंचल द्वारा खुद को गोली मारने का पूरा प्रकरण उसके घर मे लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया है मौके पर पहुची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। पर इस आत्महत्या के कारणों का अभी तक पता नहीं चल पा रहा है।
आपको बता दे कि चंचल के पिता आर्मी रिटायर्ड है, जबकि उसका बेटा भी सेना में तैनात है। दूसरा बेटा हैदराबाद में पढ़ाई कर रहा है। चंचल के पास चार डंपर है। ओर अब उसकी इस तरह से खुद को गोली मारकर ज़िन्दगी को समाप्त करना किसी के गले नही उत्तर रहा है ।उसकी मौत से घर में कोहराम मचा है।

आपको बता दे कि मृतक चंचल के छोटे भाई शेखर ने बताया कि बड़ा भाई पिछले कई दिनों से डरा-सहमा रहता था। वो अक्सर कहता था कि कोई उसे मार देगा, जिसके चलते पांच दिन पहले घर में कैमरे भी लगाए गए। आज सुबह मेन रोड पर मोबाइल रिचार्ज की दुकान चलाने वाले पंकज से भी उसने यही बात दोहराई। ओर ठीक 12 बजे घर के आंगन में उसने खुद को गोली मार ली।
पूरा हस्ता खेलता ओर सम्पन्न परिवार को क्यो चंचल चिड कर चले गए कोई समझ नही पा रहा है मृतक चंचल तीन भाइयों में सबसे बड़ा था। दूसरे नंबर का भाई हीरा राठौर इंग्लैंड में जॉब करता है, जबकि सबसे छोटा शेखर भी खनन कारोबारी है। तीनों भाइयों के मकान आपस में सटे है। सुबह शेखर चंचल से मिलने भी गया था। उस समय वो सामान्य था लेकिन उसके बाद खुद को गोली से मार देना कही सवाल खड़े कर रहा है कि आखिर चंचल को क्यो लगता था कि कोई उसकी जान ले लेगा। और फिर खुद को गोली मार कर आत्महत्या कर ली । जो सब कैमर मैं भी कैद हो गया । फिलहाल पुलिस जांच मे जुटी है ओर चंचल का पूरा परिवार गम के साये मे डूब गया है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here