आपका बैंक आपके द्वार पूरी ख़बर पढ़े

देश में इंडियन पोस्ट पेमेंट्स बैंक का शुभारम्भ
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम से किया शुभारम्भ
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने इंडियन पोस्ट पेमेंटस बैंक की देहरादून शाखा का किया उद्घाटन
मुख्यमंत्री ने चार खाताधारकों को वितरित किया क्यू आर कार्ड
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम से इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) का शुभारम्भ किया। आईपीपीबी की शुरूआत देशभर में 650 शाखाओं व 3250 पहुंच केन्द्रो (एक्सेस प्वाइंट) से की जा रही है। आम आदमी के लिए सुगम, किफायती व भरोसेमंद बैंक के रूप में सुविधाएं उपलब्ध कराने के उद्देश्य से आईपीपीबी की स्थापना की जा रही है। डाकियों व ग्रामीण सेवकों के बड़े नेटवर्क से लोगों को घरों में जाकर बैंकिंग सुविधा उपलब्ध कराई जायेगी। आईपीपीबी की टैग लाइन आपका बैंक, आपके द्वार है।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शनिवार को जीपीओ देहरादून में इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) देहरादून शाखा का उद्घाटन किया। चार खाताधारकों को क्यू आर कार्ड वितरित किये व इसके लोगो को लाँच किया। अभी उत्तराखण्ड में आईपीपीबी की कुल 12 शाखाएँ खोली जा रही हैं। इसके लिए 60 पहुंच केन्द्र (एक्सेस प्वाइंट) बनाये जा रहे हैं।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने आईपीपीबी की शुरूआत कर उन संस्थाओं को पुनर्जीवित करने का कार्य किया है, जिन से लोग दूर हो रहे थे। आईपीपीबी की शुरूआत होने से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी। बचत के लिए लोगों की सोच में नया परिवर्तन आयेगा। आईपीपीबी की व्यवस्था ग्रामीण अर्थव्यवस्था में सुधार के साथ ही गेम चेन्जर साबित होगी। मनीआॅर्डर व्यवस्था पर उत्तराखण्ड की अर्थव्यवस्था रही है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के डिजिटल इंडिया के सपने को साकार करने में यह एक अच्छी शुरूआत है। उन्होंने रेडियो को लोकप्रिय बनाने में, दूरदर्शन को और अधिक मजबूती प्रदान करने का कार्य किया है। खादी को बढ़ावा दिया जा रहा है। खादी के अधिक उपयोग से सिल्क के उद्योगों में अच्छी कमाई हो रही है।
आईपीपीबी का उद्देश्य जनसामान्य के लिए सर्वाधिक पहुंच वाला, किफायती व भरोसेमंद बनाना, देश में बैंकिंग सुविधाओं से वंचित तथा अल्प बैंकिंग सुविधाओं वाले जन समूह की राह की बाधाओं को हटाकर वित्तीय समावेशन के लक्ष्य को प्राप्त करना है। आईपीपीबी से ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों, वरिष्ठ नागरिकों विद्यार्थियों कृषकों व छोटे व्यवसायी लाभान्वित होंगे।
इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रेमचन्द अग्रवाल, उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डाॅ. धन सिंह रावत, विधायक श्री खजान दास, श्री गणेश जोशी, श्री उमेश शर्मा ‘काऊ’, श्री मुन्ना सिंह चैहान, चीफ पोस्ट मास्टर जनरल श्री विनय कुमार तिवारी आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here