उत्तरकाशी आईसीयू हुआ जनता को समर्पित

राज्यसभा सांसद और भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख पहाड़ पुत्र अनिल बलूनी की सांसद निधि से निर्मित उत्तरकाशी आईसीयू ने भी अपनी सेवाएं प्रारंभ कर दी है।

आपको बता दे कि सांसद बलूनी ने स्वास्थ्य विभाग से अनुरोध किया था कि जैसे ही आईसीयू का निर्माण पूर्ण हो जाय तो तत्काल उसे जनता की सेवा में समर्पित किया जाये न कि उद्घाटन की औपचारिकताओं हेतु लटकाया जाये। आईसीयू तैयार होने के बावजूद अगर उद्घाटन ना होने के कारण किसी का महत्वपूर्ण जीवन संकट में पड़ता है तो आईसीयू निर्माण का उद्देश्य और भावना औचित्यहीन हो जाएगी।

पहाड़ पुत्र सांसद बलूनी ने कहा को जिस तरह कोटद्वार आईसीयू का शुभारंभ वहीं के सेवानिवृत्त हो रहे कार्मिक द्वारा कराया गया, ठीक उसी प्रकार उत्तरकाशी आईसीयू का शुभारंभ वही के वरिष्ठ कार्मिक श्री मधुसूदन जी द्वारा संपन्न हुआ ।

पहाड़ पुत्र सांसद बलूनी ने कहा कि उत्तरकाशी चार धाम यात्रा का महत्वपूर्ण पड़ाव है। यह बड़ी आबादी वाला जिला मुख्यालय है। निसंदेह गंभीर रोगियों को आईसीयू निर्माण से राहत मिलेगी।
उन्होंने कहा कि मोदी सरकार सेवा, सुविधा, सुरक्षा और सरोकारों के प्रति संवेदनशील सरकार है। उनका उत्तराखंड को स्वास्थ्य सुविधाओं से आच्छादित करने का अभियान निरंतर जारी रहेगा।

बहराल पहाड़ पुत्र अनिल बलूनी तो अपना काम जानते है और जनहित में लगातार वो धरातल पर दिख भी रहा है उनके द्वारा किये जा रहे प्रयास जब धरातल पर उतरते है तो तस्वीर खुद बोलती है । अनिल बलूनी नही।
वही पहाड़ पुत्र बलूनी की उत्तराखंड में तेज़ी से बढ़ती लोकप्रियता की वजह से अब उनके राजनीतिक विरोधियों ने भी अनिल बलूनी के खिलाफ षड्यंत्र के साथ साथ दुष्ट प्रचार करना आरम्भ कर दिया है ।सूत्र बोलते है कि उनको अब ये डर सताने लगा है कि अगर बलूनी तेज़ी के साथ जनहित में लगे रहे तो वो दिन दूर नही जब पहाड़ पुत्र बलूनी पूरे उत्तराखंड मे जननेता की भूमिका में होंगे ।ओर यही डर राज्य के उन नेताओं को भी सताने लगा है जो अभी से ये समझने लग गए है कि उनका अस्तित्व अब खतरे में है। बहराल साँच को आंच नही। जो काम करेगा जनहित में वो अब उत्तराखंड का जननेता कहलायेगा।
इतिहास गवाह है उत्तराखंड के पिछले 17 सालों का की कितना रुपैया केंद्र से , आया और कितना लेप्स हुवा। कितनी 17 सालो मै सांसदों ने अपनी सांसद नीधि ख़र्च की , आंकड़े बहुत कुछ कहते है। अब ये वो उत्तराखंड है जो सब जानता है।
बलूनी जी आपको सुभकामनाये आपके प्रयास ओर केंद्र सरकार की बदौलत उत्तराखंड एक दिन न्यू उत्तराखंड जरूर बनेगा।





LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here