भारतीय सैन्य अकादमी में रविवार को अलंकरण समारोह का आयोजन किया गया। कैप्टन विक्रम बत्र मेस में आयोजित समारोह में पासिंग आउट बैच के जेंटलमैन कैडट्स के अलावा अकादमी के वरिष्ठ सैन्य अधिकारी व विभिन्न यूनिटों के सेवारत व सेवानिवृत्त सैन्य अफसर शामिल रहे। मुख्य अतिथि अकादमी के समादेशक लेफ्टिनेंट जनरल संजय कुमार झा ने उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले जेंटलमैन कैडेट्स को मेडल प्रदान किए।

आइएमए में आगामी नौ दिसंबर को 141वें रेगुलर कोर्स, 124 टेक्निकल ग्रेजुएट कोर्स व 25ए यूनिवर्सिटी एंट्री स्कीम के कैडेट पास आउट होंगे। इस बार बांग्लादेश के सेनाध्यक्ष जनरल अबु बिलाल मोहम्मद सैफुल हक बतौर रिव्यूइंग ऑफिसर परेड की सलामी लेंगे। इससे पहले रविवार को अकादमी में अलंकरण समारोह आयोजित किया गया।

पासिंग आउट बैच के जेंटलमैन कैडेट्स को यूनिट/रेजीमेंट अलॉट होने के बाद यह समारोह आयोजित किया जाता है। संबंधित यूनिट के वरिष्ठ सेवारत व सेवानिवृत्त सैन्य अधिकारी भी समारोह में शिरकत कर सैन्य अफसर बनने जा रहे युवा कैडेट्स का उत्साह बढ़ाते हैं। यह भी कहा जा सकता है कि वरिष्ठ सैन्य अधिकारी यूनिट/रेजीमेंट में इन युवा अफसरों का गर्मजोशी से स्वागत करते हैं। कैडेट्स को वर्दी व स्टार भी प्रदान किए जाते हैं। अकादमी के समादेशक ले. जनरल झा ने अकादमी में सैन्य प्रशिक्षण के दौरान उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले जेंटलमैन कैडेट्स को सम्मानित भी किया। उन्होंने जेंटलमैन कैडेट्स को नाम, नमक व निशान का सम्मान बनाए रखने की प्रेरणा दी। कहा कि युवा अफसरों को सैन्य परंपराओं के मद्देनजर अपनी-अपनी यूनिट में खुद की काबिलियत को साबित करना होगा।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here