इस पूर्व मुख्यमंत्री के सलाहकार अवैध खनन कराने के लिए रात को भी पहरा देते थे – अजय भट्ट

अजय भट्ट के बयान के बाद गमाई सूबे की सियासत

हरीश रावत अपने कार्यकाल को याद करें और सोचें कि किसे जेल में होना चाहिए : अजय भट्ट

देहरादून  ।  भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कांग्रेस महासचिव व उत्तराखंड के पूर्वमुख्यमंत्री  हरीश रावत द्वारा भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर  प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के ख़िलाफ़ दिए बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि कुछ भी अनर्गल बोलने से पहले हरीश रावत को कांग्रेस की केंद्र व राज्य सरकारों के कार्यकाल को लेकर आत्म मंथनकरना चाहिए । इससे उन्हें ख़ुद ही अंदर से आवाज़ आएगी कि भ्रष्टाचार को लेकर किसे जेल में होना चाहिए । 
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कहा कि यदि उत्तराखण्ड का ही उदाहरण लिया जाए तो  हरीश रावत के मुख्यमंत्री कालखंड में शराब घोटाला (एफएल 2) ,डेनिस शराब घोटाला , भूमि घोटाला, राशन घोटाला ,एनएच 74 घोटाला,खनन घोटाला ,विदेश यात्रा घोटाला सहित घोटालों की लम्बी सूची है । इस दौरान राज्य में कांग्रेस नेता के यहाँ हज़ारों बोरे चावल मिले और मुख्यमंत्री के सलाहकार अवैध खनन कराने के लिए रात को भी पहरा देते थे ।
  भट्ट ने कहा कि श्री रावत कोई आरोप लगाने से इन सभी कार्यों को याद कर आत्मचिंतन करें कि किसे जेल में होना चाहिए।  भट्ट ने श्री रावत को उनका बयान भी याद दिलाया जिसमें उन्होंने कहा था कि मंत्री जितना मर्ज़ी कमा लें मैं आँख बंद कर दूँगा, सरकार बचा दो किसी भी तरह , मैं टाप अप दे दूँगा।ऐसे में श्री रावत किस मुँह से मोदी जी पर उँगली उठा रहे है यह आश्चर्यजनक है ।जबकि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में शून्य घोटालों की सरकारदेश को विकास के मार्ग पर तेज़ी से आगे ले जा रही है जिसकी तारीफ़ दुनिया कर रही है । लेकिन कांग्रेस को यह पसंद नहीं है।
 भट्ट ने कहा कि प्रदेश में मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के नेतृत्व में भाजपा सरकार भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ ज़ीरो टोलरेंस की नीति के आधार पर काम कर रही है । इससे कांग्रेस नेता परेशान हैं।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here