अभी तो बच गई ज़िंदगी पर आगे भी खतरा तैयार है!

पूरे पहाड़ मे लगाताए बरसात होने की वजह सेL सड़के टूटने लगी तो कही ये मोटर मार्ग धंसने लगा है ।पर ज़िंदगी की गाड़ी तो चलानी ही है इसलिए घर से निकलकर असली गाड़ी पर बैठकर निकलना पड़ता है और जब ये उन सड़को पर चलते है जिन्हें आजकल बरसात म मौत का सफर या मौत की स्डक कहा जाता है तो यह गाड़िया हवा में बात करती है लटक लटक कर यकीन नही होता तो इस तस्वीर को ध्यान से देख लो ।

ये तस्वीर बागेश्वर से आई है राज्य मे हो रही बरसात ने पहाड़वासियों को डरा ओर से सहमा रखा है। अब तो इन्हें आजकल नींद तक नही आ रहीं हैं कभी पहाड़ों के दरकने का खतरा तो कभी पानी के जलजले में फंसने का डर। इनकी परेशानी यही खत्म नहीं होती, इसके साथ ही संकरे मोटर मार्ग पहाड़ियों की जिंदगी को और मुश्किल भरा बना रहे हैं। इस मौसम में लोगों अपनी जान हथेली में लेकर सफर तय कर रहे है । आपको बता दे कि पिंडारी ग्लेशियर को जोड़ने वाला मोटर मार्ग तो सबसे खतरनाक हो गया है।बस किसी तरह ज़िंदगी की साँसों को इस सड़क पर गिरवी रख कर चला जा रहा है।
आपको बतादे पिडारी ग्लेशियर को जोड़ने वाले मोटर मार्ग पर लगातार बारिश की वजह से ये रास्ता धंस रहा है। शुक्रवार देर शाम एक टैक्सी कपकोट से स्थानीय लोगों को लेकर खरकिया की ओर रवाना हुई। खरकिया से महज एक किलोमीटर दूर पर टैक्सी के पीछे वाला टायर धंसने लगे। जबतक गाड़ी पर सवार लोगों ने पीछे मुड़कर देखा तबतक उनकी गाड़ी हवा में लटक चुकी थी। ।

तब किसी तरह ग्रामीणों ने सूझ-बूझ का इस्तेमाल किया और एक-एक करके सब बाहर आ गये। बाद में किसी तरह उसी मार्ग पर काम कर रही एक जेसीबी की मदद से हवा में लटक रही टैक्सी को मोटर मार्ग की तरफ निकाला गया। ओर जब संचार सुविधा नही होगी तो जिला प्रशासन को सूचना देर से मिलनी तय है

जैसे तैसे टैक्सी में सवार सभी ग्रामीण स्थानीय बताये जा रहे हैं, जो सामान्य खरीददारी के बाद वापस अपने घर लौट रहे थे। ग्रामीणों के मुताबिक वे अन्य रास्ते खराब होने के कारण वे पिंडारी वाया रिठाबगड़ रूट होते हुए खरकिया-धुर मोटर मार्ग से अपने घरों को रवाना हुए थे।

बता दें कि इन दिनों बागेश्वर के कपकोट ब्लॉक में बारिश लोगों के लिए आफत बनी हुई है। कई जगहों पर रोड़ धसने के कारण यातायात जोखिम भरा हो गया है। वैकल्पिक व्यवस्था ना होने के कारण ग्रामीण इन्हीं मार्गों पर चलने को मजबूर हैं। जिलाधिकारी रंजना राजगुरु ने घटना को गंभीरता लिया है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here