आठ साल की मासूम के साथ 40 साल के युवक से शादी का मामला , पूरी रिपोर्ट

ख़बर है कि आठ साल की उम्र मे 40 साल के युवक से मासूम की शादी करा दी गई और इस बात को खुद जिला अधिकारी के सामने कहकर न्याय की गुहार लगाई ।
‘महज आठ साल की उम्र में मेरी शादी 40 वर्ष के युवक से करा दी गई और अब परिवार वाले ससुराल जाकर रहने का दबाव बना रहे हैं। साहब…! मुझे इंसाफ चाहिए। जी हां सोमवार को जनता दरबार पहुंची एक किशोरी की यह गुहार सुनकर जिलाधिकारी भी सन्न रह गए।
आपको बता दे कि किशोरी की पूरी समस्या सुनने के बाद जिलाधिकारी ने पुलिस को मामले की जांच कर कार्रवाई के आदेश दिए हैं। उन्होंने किशोरी को इंसाफ का भरोसा दिलाने के साथ ही हरसंभव मदद का आश्वासन भी दिया।
ख़बर है कि सोमवार को कलेक्ट्रेट में आयोजित जनता मिलन में मंगलौर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव से पहुंची 15 वर्षीय किशोरी ने जिलाधिकारी दीपक रावत के सामने अपनी पीड़ा रखकर न्याय की गुहार लगाई। ओर कहा कि
दोबारा ससुराल में जाकर रहने का दबाव बनाया जा रहा
किशोरी ने कहा कि परिजनों ने उसकी महज आठ साल की उम्र में ही उसकी शादी हरियाणा निवासी 40 वर्षीय युवक से करा दी। कुछ साल ससुराल में रहने के बाद अब वह मायके में आकर रह रही है।
किशोरी ने जिलाधिकारी को बताया कि उस पर दोबारा ससुराल में जाकर रहने का दबाव बनाया जा रहा है।
ससुरालवालों के साथ माता-पिता भी इस बात के लिए रोज उसको प्रताड़ित करते हैं। ऐसे में वह बहुत परेशान है।
आपको बता दे कि बाल विवाह का जिक्र सुनकर जिलाधिकारी दीपक रावत और जनता मिलन में मौजूद अन्य अधिकारी भौचक्के रह गए। जिलाधिकारी ने मंगलौर पुलिस को तत्काल मामले की जांच कर कार्रवाई करने के आदेश दिए। ओर
परिजनों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी
जिलाधिकारी दीपक रावत ने बताया कि इस बात की जांच कराई जा रही है कि क्या वास्तव में किशोरी का बाल विवाह कराया गया था। अगर ऐसा है तो परिजनों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बहराल देखना ये होगा कि जांच के बाद क्या निकलकर आता है। तभी पूरे मामले की तस्वीर से पर्दा उठेगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here