उत्तराखंड के 9 जिलों मैं आज से बारिश ! मौसम विभाग ने किया ऑरेंज अलर्ट जारी , देहरादून मे एक पर्यटक की बहने से मौत

आपको बता दे की उत्तराखण्ड राज्य के नौ जिलों में आज ओर कल 14 और 15 जुलाई को भारी बारिश की संभावना है। तो वही अन्य जिलों में भी अधिक अच्छी बारिश होने का अनुमान है। इसी समय को देखते हुए मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी कर अतिरिक्त सावधानी बरतने के निर्देश भी जारी किए हैं बता दे कि मौसम विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार देहरादून, नैनीताल, चंपावत, ऊधमसिंह नगर, पिथौरागढ़, चमोली, टिहरी, पौड़ी और हरिद्वार जिले के कई स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है।
वही रुद्रप्रयाग, अल्मोड़ा, उत्तरकाशी, बागेश्वर जिलों में भी कुछ स्थानों पर अच्छी बारिश की संभावना है। वही मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने मीडिया को बताया कि प्रदेश में लगातार बारिश का मौसम बना हुआ है।
ओर आज से कल तक यानी दो दिन प्रदेश के ज्यादातर इलाकों में भारी बारिश हो सकती है। इस पर विभाग ने एडवाइजरी जारी कर दी है। इस दौरान पहाड़ी क्षेत्रों में भूस्खलन की आशंका भी बनी हुई है। हिमालयी क्षेत्रों में पर्यटकों की आवाजाही रोकने का सुझाव दिया गया है। साथ ही राज्य सरकार से अतिरिक्त सतर्कता बरतने को कहा गया है।


आपको बता दे कि लगातार हो रही भारी बारिश सड़कों पर भारी पड़ रही हैं। पिथौरागढ़ और बागेश्वर जिले में दर्जनभर सड़कें बोल्डरों से पट गईं हैं। जहां-तहां मार्ग बंद होने से लोगों की परेशानी भी बढ़ गई है। पंग्बाबे के पास बोल्डर गिरने से कैलाश यात्रा मार्ग भी बंद हो गया है।
यही नही केदारनाथ ,बद्री नाथ सडक़ यात्रा मार्ग भी बरसात की वजह से बदहाल हो रहा है


तो वही जौलजीबी-मदकोट-मुनस्यारी सड़क कई स्थानों में रोखड़ में तब्दील हो गई है। थल-मुनस्यारी सड़क भारी वाहनों के लिए बंद हो गया है। जड़बुंगा-अमल्यानी संपर्क मार्ग, हुनरी-तल्ला खुमती संपर्क मार्ग भी क्षतिग्रस्त हो गया है। इनके अलावा,  जौलजीबी-मुनस्यारी, समकोट-मुनस्यारी मार्ग बंद हैं। बलतिर-अल्काथल सड़क एक सप्ताह से बंद है। इसे अब तक नहीं खोलने पर ग्रामीणों में रोष है। उन्होंने प्रदर्शन कर नाराजगी जताई।
वही बागेश्वर जिले में सात सड़कें अब भी बंद हैं। इनमें पोथिंग-शोभाकुंड मोटर मार्ग नौ दिन से बंद है। कपकोट-कर्मी-बघर, कपकोट-कर्मी-तोली सड़क पांच दिन से बंद हैं। डंगोली-कलानी, कपकोट-पोलिंग और रीमा-सनेती-बैकुड़ी भी बंद हैं।
तो जसपुर में दीवार गिरने से वृद्धा की मौत हो गई है दुःखद।
बहराल पूरे उत्तराखण्ड के पहाड़ी जिलों मैं इस समय मौसम बदला हुवा है। इसलिए आप सब सावधान रहें , जगरूक रहे।


एक बार फिर बात दे कि प्रदेश में अगले 24 घंटे भारी बारिश होने का अनुमान है। मौसम विभाग की ओर से भारी बारिश की आशंका जताए जाने के बाद राज्य सरकार ने सभी जिलाधिकारियों को अतिरिक्त सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। वहीं शनिवार को सुबह धूप निकलने के बाद कई इलाकों में रुक-रुक कर झमाझम बारिश हुई। देहरादून के पर्यटक स्थल सहस्रधारा में नहाते वक्त दिल्ली का पर्यटक विजय उर्फ विक्की निवासी कुतुब विहार फेज वन द्वारिका बह गया। एक किलोमीटर दूर मिला शव। शानिवार शाम चार दोस्तों के साथ देहरादून आया था । पुलिस ने शव को कोरोनेशनन अस्पताल में रखवाया है
वही मौसम को देखते हुए।
शासन ने सभी जिलाधिकारियों को किसी भी आपदा या दुर्घटना की स्थिति में तत्काल आपदा प्रबंधन के लिए तैयार रहने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा एनएच, लोनिवि, पीएमजीएसवाई, एडीबी, सीमा सड़क संगठन और सीपीडब्ल्यूडी अधिकारियों को मोटर मार्ग के बाधित होने पर तुरंत खुलवाने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं।

Leave a Reply