गुप्ता बंधुओं के बहु-बेटों ने भगवान शिव-पार्वती की विवाह स्थली मै पूजा-अर्चना व हवन किया

253

आपको बता दे कि उत्तराखंड मै 200 करोड़ की शादी से चर्चाओं मै आये गुप्ता बंधुओं के बहु-बेटों ने भगवान शिव-पार्वती की विवाह स्थली त्रियुगीनारायण मंदिर में पूजा-अर्चना व हवन किया। ओर इस अनमोल अवसर पर उन्होंने ग्रामीणों को सामूहिक भोज दिया ।

बता दे कि  रविवार को अजय गुप्ता और अतुल गुप्ता के पुत्र-पुत्रवधु सूर्यकांत-कृतिका और शशांक-शिवांगी व सभी परिजन आज भगवान त्रियुगीनारायण मंदिर पहुंचे, जहां त्रियुगीनारायण वैदिक विवाह प्लानर रंजना रावत और नवीन सेमवाल समेत स्थानीय निवासियों ने मांगल गीतों और जलकलश के साथ उनका भव्य स्वागत किया।


वही हमारे तीर्थ पुरोहित भक्तदर्शन सेमवाल, शिव प्रसाद सेमवाल, कैलाश चंद्र गैरोला, एसएन पंचपुरी ने गुप्ता बंधुओं व उनके बेटे व बहुओं के हाथों पूजा-अर्चना के साथ हवन कराया। वही उन्होंने नव दंपतियों को इस महत्वपूर्ण ओर पूज्नीय स्थान पर विवाह पूजन का महत्व भी बताया।


वही इसके बाद उन्होंने भगवान त्रियुगीनारायण के दर्शन किए। ओर  पुजारी रामेश्वर प्रसाद जमलोकी, संजय जमलोकी, शंभू प्रसाद जमलोकी, नागेंद्र प्रसाद जमलोकी ने नवदंपतियों के हाथों पूजा का संकल्प भी कराया,
जिसके बाद गुप्ता बंधुओं द्वारा त्रियुगीनारायण के ग्रामीणों को भोज भी दिया गया, जिसमें लगभग तीन सौ से अधिक लोग शामिल हुए। वही नव दंपतियों को 100 तीर्थ पुरोहितों द्वारा सुख-समृद्धि का आशीर्वाद दिया गया।


वही वेडिंग प्लानर रंजना रावत ने कहा कि इस शाही शादी के बाद नव दंपतियों के त्रियुगीनारायण मंदिर में पूजा-अर्चना करने से इस स्थल को नई पहचान मिलेगी। त्रियुगीनारायण के प्रधान विजय लाल ने भी कहा कि इससे मंदिर को देश-विदेश में नई पहचान मिलेगी। बहराल बोलता उत्तराखंड तो सिर्फ ये चाहता है कि मेरे पहाड़ की समस्याओं को दूर करने वाला कोई हो।या अनेक हो इससे हमको फर्क नही पड़ता बस पहाड़ के हालात बदलने चाइए। लोगो की आर्थिक मजबूत हो, पहाड़ो मैं रोजगार हो, संतुलित विकास हो ।, जितना जरूरी हो उससे अधिक पर्यावरण का भी ध्यान रखा जाये। जो जरूरी है।
पर स्थानीय लोगो की जीविका को भी इससे जोड़ा जाये।
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने प्रयास किया है , मतलब बीज बो दिया है अब आगे परिणाम भी सामने आएंगे ही।
हर पहलुओं के दो रूप होते है कही बार उससे अधिक ।बस अब हम चाहते हैं कि आने वाले समय मैं उत्तराखंड के महत्वपूर्ण स्थल वैंडिंग डेस्टिनेशन के रूप मै जाने जाए उनको पहचान मिले।


ओर आने वाले समय मैं उत्तराखंड मैं उप्तन्न होने वाले ही फल, फूल , साग सब्जियां, कपड़े लते वालो कि भी महत्वपूर्ण भागीदारी रहे क्योकि पीएम मोदी ने कहा है सबका साथ सबका विकास और सबका विस्वास।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here