ये ख़बर भी देहरादून से है जहाँ कोतवाली क्षेत्र में एक बीए की छात्रा ने छेड़छाड़ से दुखी होकर बुधवार को फांसी लगाकर अपनी ज़िंदगी को खत्म कर दिया
जानकारी अनुसार पीड़िता ने मंगलवार को छेड़छाड़ की घटना के बाद हुई आत्मग्लानि का अपने द्वारा लिखे सुसाइड नोट में जिक्र तक किया। ओर पीड़िता ने आरोपी को कड़ी सजा देने की मांग भी की है।
आपको बता दे कि उत्तरकाशी जिले की पीड़िता अपने दो भाइयों के साथ देहरादून में किराये के मकान रहती थी जहा से वे एमकेपी कॉलेज से बीए तृतीय वर्ष की पढ़ाई कर रही थी। रोज की तरह बुधवार सुबह उसका भाई अपनी नौकरी पर और छोटा भाई स्कूल चला गया था फिर लगभग ढाई बजे के करीब छोटा भाई घर पहुंचा तो दरवाजा अंदर से बंद था। काफी आवाज लगाने के बाद भी दरवाजा नहीं खुला तो उसने आसपास के लोगों को सूचना दी। पुलिस के आने के बाद दरवाजा तोड़ा गया तो अंदर युवती का शव पंखे से लटका हुआ मिला दुःखद वही कमरे से ही तीन पेज का सुसाइड नोट जब मिला तो खुदकुशी की वजह साफ झलक गई
आपको बता दे कि भाई के नाम लिखे सुसाइड नोट में पीड़िता ने लिखा है कि परिचित आरोपी ने मंगलवार को घर में आकर उसके साथ छेड़छाड़ की। विरोध करने पर आरोपी खिड़की से कूदकर फरार हो गया।
वह चाहती तो आरोपी को जेल भिजवा सकती थी, लेकिन उसे लग रहा था कि उसके गलत परिणाम हो सकते हैं। दूसरा पापा को इससे बहुत दुख होता और वह किसी को मुंह नहीं दिखा पाती। सुसाइड नोट में भाई से गलत लोगों से दोस्ती न करने और किसी लड़की से छेड़छाड़ न करने की हिदायत दी गई है।
साथ में यह भी लिखा है कि उसे भाई पर पूरा विश्वास है। युवती ने भाई से उसके सपनों को पूरा करने की भी इच्छा जाहिर की है। धारा चौकी प्रभारी कुलदीप पंत ने बताया कि सुसाइड नोट के आधार पर आरोपी की तलाश की जा रही है। छात्रा के परिजनों को सूचित कर दिया गया है। आरोपी के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। बहराल इस दुःखद घटना ने एक हस्ते खेलते परिवार को उजाड़ दिया । माता पिता और भाई ने जिस बहन की अब शादी के सपने सजोये थे ।जो उसे डोली मे बैठा कर विदा करते अब उसकी अर्थी को कंधा देगे ।सोचकर भी आँखे भर आती है अपनी तो उन पर क्या गुजर रही होगी जिन्होंने अपनी लाड़ली को खो दिया ।





LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here