देवभूमि मै लगातार दुष्कर्म ओर हैवानियत के मामले बढ़ते जा रहे है तो नाबालिग छात्रा की बात हो या छात्र की उनको भी हैवानियत का शिकार बनाया जा रहा है आपको बता दे कि
12 साल के बच्चे को अकेला देखकर दो सीनियर छात्र हैवान बन गए। उन्होंने छात्र के साथ ऐसी हैवानियत की कि वह सदमे में आ गया। सैन्य परीक्षाओं की तैयारी करने वाले एक प्राइवेट संस्थान के हॉस्टल में सातवीं के छात्र से कुकर्म का मामला सामने आया है।
जानकारी अनुसार पुलिस ने कुकर्म, धमकी और पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर हॉस्टल के दो छात्रों को हिरासत में लिया है। आरोप है कि शिकायत करने पर छात्र को पंखे से लटकाने की धमकी भी दी गई।

नई दिल्ली के अंबेडकर नगर क्षेत्र का रहने वाला 12 वर्षीय सातवीं का छात्र सैनिक स्कूल में दाखिले के लिए परीक्षा की तैयारी कर रहा है।
आरोप है कि शुक्रवार की रात साढ़े दस बजे दो सीनियर छात्रों ने उसे दूध पीने के बहाने बुलाया और कुकर्म किया। जानकारी मिलने पर माता-पिता दिल्ली से हल्द्वानी आए और कोतवाल विक्रम सिंह राठौर को इसकी जानकारी दी।
कोतवाल के निर्देश पर पुलिस ने बच्चे का बेस अस्पताल में मेडिकल मुआयना कराया। एसएसआई विजय सिंह मेहता ने बताया कि दोनों आरोपी बालिग हैं। उनके खिलाफ पुलिस ने धारा 377, 506, 5/6 पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।
पूरे उत्तराखंड मैं लगतार बढ़ते इन मामलों पर अब पुलिस को सोचना होगा कि आखिर कैसे इन अपराध को कम किया जाए । जो पुलिस के लिए अब सिर दर्द बनता जा रहा है



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here