प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रस्तावित केदारनाथ कार्यक्रम के दौरान उनकी गरुड़चट्टी जाने की संभावना को देखते हुए मंदाकिनी नदी पर अस्थायी पुल बनाया जा रहा है। जिससे पुल पर एटीवी (ऑल टेरेन व्हीकल) गुजर सके। साथ ही गांधी सरोवर के नीचे साधना के लिए बनाई गई गुफा का रास्ता भी दुरुस्त किया जा रहा है। हालांकि, अभी प्रधानमंत्री के केदारनाथ कार्यक्रम की तिथि तय नहीं हुई है।

फाइल फोटो

वर्ष 2017 में प्रधानमंत्री ने केदारनाथ में गरुड़चट्टी को जोड़ने वाली योजना की नींव रखी थी। इसी क्रम में गरुड़चट्टी को केदारनाथ से जोडऩे के लिए 3.5 किमी लंबे पैदल मार्ग का निर्माण किया गया है, जो कि करीब 4.5 मीटर चौड़ा है। प्रधानमंत्री इस रास्ते का उद्घाटन करने के साथ स्वयं भी एटीवी से गरुड़चट्टी जा सकते हैं। लिहाजा, प्रशासन मंदाकिनी नदी पर अस्थायी पुल का निर्माण करने के साथ पैदल मार्ग को व्यवस्थित करने में जुटा है। क्योंकि, वहां बन रहा पक्का पुल अभी निर्माणाधीन है। 

इसके अलावा प्रधानमंत्री साधना के लिए बनाई गई गुफा में भी जा सकते हैं। सो, गुफा की ओर जाने वाले रास्ते को भी एटीवी चलने लायक बनाया जा रहा है। जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने बताया कि प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को देखते हुए धाम में बैरिकेडिंग लगाने का कार्य शुरू कर दिया गया है। इसके लिए गौरीकुंड से बल्लियां भिजवाई जा रही हैं।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here