अडानी ने किया सीएम त्रिवेन्द्र रावत का अपमान- हरीश रावत

आपको बता दे कि सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत की मौजूदगी में इनवेस्टर्स समिट के आयोजन और राज्य की अलोचना करते नजर आ रहे उद्योगपति गौतम अडाणी के हाल ही मे वायरल हुए एक वीडियो के मामले में शुक्रवार को एफआईआर दर्ज कराई गई है। सीएमओ सूत्रों के मुताबिक यह डॉक्टर्ड वीडियो (वीडियो से छेड़छाड़) है। इस वीडियो के जरिए राज्य की छवि बिगाड़ने की साजिश की गई है।
आपको बता दे कि वीडियो को जांच के लिए चंडीगढ़ फोरेंसिक लैब भेज दिया गया है। जांच रिपोर्ट आते ही वीडियो से छेड़छाड़ करने और इसे सोशल मीडिया पर पोस्ट करने वालों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी। 

जानकारी के मुताबिक सीएमओ के निर्देश पर सूचना विभाग की ओर से बृहस्पतिवार को एसएसपी देहरादून को मामले की तहरीर सौंपी गई थी।
एसएसपी के निर्देश पर पुलिस साइबर क्राइम सेल ने आनन-फानन में मामला दर्ज कर कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है। मामला सीएमओ से जुड़ा होने के चलते इस मसले पर कोई भी पुलिस अधिकारी खुलकर बोलने को तैयार नहीं थे । उच्च पदस्थ पुलिस सूत्र एफआईआर दर्ज होने और वीडियो को चंडीगढ़ फोरेंसिक लैब भेजने की पुष्टि करते हैं। 

आपको बता दे कि यह वीडियो नौ अक्टूबर को सबसे पहले एक न्यूज वेबसाइट पर नजर आया और फिर देखते ही देखते सोशल मीडिया के अन्य प्लेटफार्म्स पर वायरल हो गया। इससे प्रदेश की राजनीति में हलचल मच गई। कांग्रेस और समिट के विरोध करने वाले इस वीडियो को लेकर आक्रामक हो गए और इनवेस्टर्स समिट में सवा लाख करोड़ के इनवेस्टमेंट के प्रस्ताव पाने का दावा कर रही सरकार के लिए भी यह परेशानी का सबब बन गया।

बहराल वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस भी इसकी जांच में जुट गई है। पुलिस सूत्रों के अनुसार वीडियो को जांच के लिए चंडीगढ़ लैब भेज दिया गया है। साथ ही वीडियो तैयार करने और इसे शेयर करने वाले के संबंध में भी जानकारी जुटाई जा रही है।
आपको बता दे कि इस वीडियो मैं सीएम और अदाणी के वीडियो की बातचीत
अडाणी : रात को ही मैं निकल जाऊंगा।
सीएम : सीधा अहमदाबाद निकल जाएंगे।
अडाणी : हां, सीधा अहमदाबाद। मेरे को आने में थोड़ी आफत हुई। एयरपोर्ट साइड में ट्रैफिक बहुत ज्यादा था। हूएवर इनवेस्टर इस कमिंग, ही इज नॉट (इसके बाद आवाज साफ नहीं है)। ओवरऑल है। वन साइड इन फियर ऑफ गवर्नमेंट। अच्छा सबको धंधा करना होता है, इधर सब आ जाते हैं। लेकिन वह होता नहीं है। ईच एंड एवरी इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट देखो, दे आर इन ट्रबल। ईच एंड एवरी। …
(वीडियो में संवाद बहुत साफ नहीं है।

बहराल वीडियो आडियो की जांच रिपोर्ट में क्या निकल कर आता है ये तो समय बताएगा

लेकिन राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा है कि अडानी ने सीएम त्रिवेन्द्र रावत का अपमन किया है और साथ ही उन्होंने मुख्यमंत्री के प्रोटोकॉल का भी उलंघन किया है भले ही उन्हें केंद्र सरकार ने हाकने पर वो देहरादून चले आये , लेकिन जिस तरह से सोशल मीडिया में सुनाई दिया की अडानी राज्य के मुख्यमंत्री के सामने ही राज्य की आलोचना कर रहे है । ओर ये कह रहे है( कि संबको धंधा करना होता है इधर सब आ जाते है लेकिन वह होता नही। ) ओर इसके साथ ही आलोचना भी राज्य की होती है तो ये अडानी राज्य के मुख्यमंत्री का अपमान करके चले गए क्योकि उस दौरान वहाँ पर राज्य के बड़े नोकरशाह की पूरी टीम भी बैठी हुई थी । जिसका असर अधिकारी पर भी पड़ता है । इन सब बातों पर हरीश रावत ने कहा कि हम भी देखेगे की कितना निवेश राज्य मे होता है और हुवा तो उसका स्वागत किया जाएगा पर जब निवेश करने वाले ही राज्य के मुखिया का अपमाम कर से ये सब बातें कह कर वो भी सरकार के अधिकारी के सामने तो सोचना पड़ता है कि ये सब ठीक नही हुवा 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here