नेता नही जननेता है जो कह दिया समझो हो गया!

पहाड़ पुत्र अनिल बलूनी को हल्के मे ले रहे हो क्या ? ये वो पहाड़ पुत्र बलूनी है जो कहते है वो होता है और जो सोचते है वो हंड्रेट परसेंट होता है। क्योंकि राज्य का हित बलूनी से बेहतर कोन जानता है। ना बलूनी किसी राजनीतिक परिवार से तालुख रखते थे ना बलूनी जुगाड़ की सिफारिश से यहा तक पहुचे है ।सिर्फ और सिर्फ बलूनी अपनी मेहनत से लग्न से इस मुकाम तक पहुँचे है कि  अब उनसे जलने वालों की सख्या मे लागातार इज़ाफ़ा हो रहा है  खेर अब ख़बर पर आते है

आपको बता दे कि आइटीबीपी से होगी उत्तराखंड के नागरिकों को स्वास्थ्य सुविधा की शुरुआत ।

जी हा कुछ दिन पूर्व देश के गृह मंत्री  राजनाथ सिंह  से पहाड़ पुत्र और राज्य सभा सांसद अनिल बलूनी ने अनुरोध किया था कि अर्धसैनिक बलों (आइटीबीपी, एसएसबी और सीआरपीएफ) के चिकित्सकों के माध्यम से उत्तराखंड के आम नागरिकों को चिकित्सा सुविधा अगर प्रदान होगी तो विशेषकर दुर्गम क्षेत्र के नागरिकों को काफी सुविधाएं मिलेंगी।
इसी कड़ी में आज आइटीबीपी के महानिदेशक आरके पसमंदा से अनिल बलूनी ने भेंट की और उत्तराखंड के एक दर्जन से अधिक आइटीबीपी के केंद्र जहां पर चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध हैं, वहां स्थानीय नागरिकों को ओपीडी सेवा देने पर विचार विमर्श हुआ। शीघ्र   ही   आम जनता को आइटीबीपी द्वारा चिकित्सा सुविधा की शुरुआत हो जाएगी।

अनिल   बलूनी नेे  ग्रह मन्त्री   ओर आइटीबीपी का विशेष आभार जताया
ये है अनिल बलूनी जो सोचते है , सकल्प लेते है उसे पूरा करने के लिए खूब पसीना भी बहाते है
अरे भाई इसको ही तो कहते है जन नेता जो जन हित के लिए पहाड़ के विकास के लिए लगातार स्ट्रगल कर रहे है ओर उसके लिए लगातार काम भी कर रहे है । तभी तो पूरे उत्तराखंड मैं अनिल बलूनी लोकप्रिय नेता है जन नेता है बलूनी जी को सुभकामानये ।
आप जन हित मे लगातार प्रयास करते रहे और आपके प्रयास सफल होते रहे। ओर आपके राजनीतिक विरोधियों को भगवान सही रास्ता   दिखाए ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here