300 से जायदा मर गई भेड़ ओर बकरियां इन गरीब पर पड़ी कुदरत की मार

पहाड़ मे जब जब बादल फटने की ख़बर आती है गरीब का सब कुछ लूट कर चली जाती आपको बता दे कि जनपद रुद्रप्रयाग उखीमठ विकासखण्ड के अंतर्गत बिषुणी ताल के छाजमणी बुग्याल मे बुरुवा निवासी बिरेन्द्र सिंह की 200 से 250 व गड़गू गाँव से 9 km दूर भादणी बुग्याल मे गड़गू निवासी सूरज सिंह की 150 से 185 भेड़ आकसीय बिजली की चपेट मे आ गयी, घटना रविवार शाम की बताई जा रही है  मामले में जिला अधिकारी रुद्रप्रयाग ने कहा की घटना क्योंकि दूरस्थ जंगलों की है इसलिए हमें सूचना देर से लगी वन विभाग की टीम ने जांच के लिए भेज दी गई हैं उनकी रिपोर्ट के अनुसार पशुपालक को मुआवजे के लिए कार्रवाई की जाएगी कुछ जानकार इस इन बकरियों की हालत देखकर इसे आसमानी बिजली के साथ ही “बामकु” जैसे संक्रामक रोग से मरने की बातें भी कर रहे हैं असल तथ्य अब जांच के बाद ही पता लग पाएगा। खेर बात हो भी हो पर गरीब का तो दब कुछ उजड़ गया ना ओर अगर बात सरकारी मुवाज़े की की जाए तो वो हम सब जानते है कि मिलता कितना है और नुकसान कितना होता है दुःखद ख़बर है सोच रहा हूँ याबी इनका परिवार कैसे गुजारा करेगा

Leave a Reply