21 जून का दिन उत्तराखंड के लिए ख़ास सभी तैयारी पूरी

आपको बता दे कि उत्तराखंड की अस्थाई राजधानी देहरादून में आगामी 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर आयोजित होने जा रहे कार्यक्रम से पहले बीते शनिवार को रन फॉर योगा का आयोजन किया गया. इसमें न सिर्फ मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दौड़ लगाई बल्कि राज्य के कई बड़े कैबिनेट मंत्रियों ने भी सीएम के साथ इस दौड़ में हिस्सा लेकर उत्तराखंड की जनता को जागरूक किया. 
लिहाजा, योगा के प्रति जनता की जागरूकता के लिए बीते शनिवार को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की सरकार देहरादून की सड़कों पर दौडती नजर आई. आपको बता दें कि आगामी 21 जून को पूरे भारत में मनाए जाने वाले अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को सफल बनाने के लिए बीते शनिवार को आयोजित किए गए इस अभियान में शामिल होने वाले सभी मंत्रियों ने बोलता उत्तराखण्ड की टीम से खास बातचीत की. इस दौरान कैबिनेट मंत्रियों कहा कि योग को लेकर मंत्रिमंडल के दौड़ लगाने से जनमानस जागरूक होगा, तो निश्चित रूप से भविष्य में भी इसका लाभ राज्य को मिलना तय है
उन्होंने कहा कि योग से न सिर्फ तन स्वस्थ होगा बल्कि मन भी स्वस्थ होगा. इस मौके पर कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योग के माध्यम से उत्तराखंड वासियों के लिए बहुत अच्छा तोहफ दिया है. उन्होंने कहा कि रोजगार और स्वास्थ्य की दृष्टि से योगा एक नया आयाम होगा उत्तराखंड के लिए है. वहीं मंत्री प्रकाश पंत ने कहा कि जनता को अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होना चाहिए. ताकि उनमें सकारात्मक सोच आ सके. उन्होंने कहा कि योग से लोग निरोग होते हैं और आत्मा को शांति मिलती है. इसलिए योग को हर एक व्यक्ति को अपने जीवन में शामिल करना चाहिए. वही इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए
अंर्तराष्ट्रीय योग दिवस के पूर्व रविवार को जनता में योग के प्रति जागरुकता करने के उद्देश्य से उत्तराखण्ड पुलिस विभाग ने भी रविवार को एक जागरूकता रैली का आयोजन किया। प्रातः सात बजे वॉक फॉर योगा रैली पुलिस मुख्यालय से निकाली गयी।                                ये रैली कनक चोक , गांधी पार्क घण्टाघर, दर्शनलाल चोक, लैंसडाउन चोक होते हुये पुलिस मुख्यालय होकर वापस समाप्त हुई।
रविवार की सुबहें पुलिस महानिदेशक अनिल रतूड़ी के नेतृत्व में आयोजित रैली में अपर पुलिस महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था, अशोक कुमार, राम सिंह मीना,वी विनय कुमार, अपर पुलिस महानिदेशक अभिसूचना एवं सुरक्षा, श्री दीपम सेठ, पुलिस महानिरीक्षक, अपराध एवं कानून व्यवस्था, अमित सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक, संचार, संजय गुंज्याल, पुलिस महानिरीक्षक, पी एम, ए पी अंशुमन पुलिस महानिरीक्षक पीएसी, जी एस मर्तोलिया, पुलिस महानिरीक्षक, कार्मिक पुलिस मुख्यालय, ए सी चैहान, पुलिस महानिरीक्षक, सीबीसीआईड सहित सभी इकाईयों (अभिसूचना एवं सुरक्षा, सतर्कता विभाग, सीबीसीआईडी, पुलिस संचार, पीएसी, एसडीआरएफ,फायर सर्विस, गढ़वाल रेंज, पुलिस कार्यालय देहरादून, पुलिस लाईन देहरादून) के लगभग 1100 पुलिस अधिकारी- कर्मचारियों आदि ने भाग लिया।                                                                    तो वही उत्तराखंड राज्य की राजधानी देहरादून के लिए आने वाला 21 जून का दिन मत्वपूर्ण होने के साथ साथ इतिहास के पन्नों में दर्ज होने का दिन होगा जिसकी पूरी तैयारी राज्य सरकार के स्तर से पूरी हो चुकी है। राज्य सरकार 21 जून को कोई भी कमी नही छोड़ना चाहती है तभी तो अगर मौसम खराब भी हुवा तो 21 जून को बारिश होने की स्थिति में ‘वर्षा योग’ होगा। हालांकि मौसम विभाग के अनुसार बारिश के आसार कम हैं। फिर भी, प्रतिभागियों को बता दिया गया है कि वर्षा के कारण योग अभ्यास बाधित नहीं होगा। वर्षा योग से रोमांच और भी बढ़ जाएगा। सभी योग मैट के साथ शू बैग और वाटर प्रूफ मोबाइल पाउच का इंतजाम होगा।   
सचिवालय में योग अभ्यास की तैयारियों को अंतिम रूप देते समय तय किया गया कि वर्षा होने की स्थिति में भी योग अभ्यास चलता रहेगा। 21 जून 2018 को सुबह 5 बजे के बाद एफआरआई में किसी को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। प्रतिभागियों के पंजीकरण की संख्या 50 हजार से अधिक हो जाने के कारण ऑनलाइन पंजीकरण को रोक दिया गया है। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के लिए मुख्य सचिव श्री उत्पल कुमार सिंह की अध्यक्षता में गठित उच्च स्तरीय समिति की बैठक में सभी तैयारियों को अंतिम रूप दिया गया।

सचिव आयुष श्री आरके सुधांशू ने बताया कि कूड़े कचरे के तत्काल निस्तारण के लिए कम्पेक्टर मशीन लगाई जाएगी। कूड़े को इकट्ठा करने और सफाई के लिए पर्याप्त कार्मिक तैनात रहेंगे। बिजली, पानी, स्वास्थ्य सेवाओं, सुरक्षा आदि की फूल प्रूफ व्यवस्था कर ली गयी है। 18 और 19 जून को कार्यक्रम स्थल पर ही रिहर्सल किया जाएगा। इसमें सभी ग्रुप लीडर का शामिल होना अनिवार्य किया गया है। 1000 बसें रेंजर्स ग्राउंड में रहेंगी। यहां से हरिद्वार, ऋषिकेश और अन्य रूट पर प्रतिभागियों के लाने के लिए रवाना होंगी। रूट चार्ट और किस बस में कौन प्रभागी आएगा इसकी लिस्ट बना ली गई है आयुष मंत्रालय, भारत सरकार के सचिव वैद्य राजेश कोटेचा ने राज्य सरकार की तैयारियों की सराहना की। कहा कि इस तरह रजिस्ट्रेशन और अन्य सिस्टेमेटिक तैयारी उन्होंने अन्य राज्यों में नहीं देखी थी।बैठक में डीजीपी श्री अनिल कुमार रतूड़ी, सचिव विद्यालयी शिक्षा डाॅ.भूपिंदर कौर औलख, सचिव पर्यटन श्री दिलीप जावलकर, सचिव प्रोटोकॉल श्री हरबंश सिंह चुघ, वीसी एमडीडीए श्री आशीष श्रीवास्तव, नगर आयुक्त श्री विजय जोगदण्डे, निदेशक आइटीडीए श्री अमित सिन्हा, अपर निदेशक सूचना डाॅ. अनिल चंदोला सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here