ख़बर दुःखद है

जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा में हुए आतंकी हमले में पौड़ी जनपद के एक लाल देश के लिए शहीद हो गया
बता दे कि कल्जीखाल ब्लॉक के कोला गांव का रहने वाला वीर जवान अमित कुपवाड़ा में अपनी ड्यूटी दे रहा था तभी आतंकियों ने जवानों के कैम्प में हमला किया जिसमें अमित अण्थवाल देश के लिये शहीद हो गया, इस घटना से अमित के परिवार और पूरे क्षेत्र शोक की लहर छाई हुई है।


शहीद अमित दो बहिनों का एकलौता भाई था और इन दिनों घर में उसकी शादी की तैयारियां चल रही थी। अक्टूबर में उसकी शादी तय हुई थी
जबकि अभी कुछ माह पूर्व ही उसकी सगाई हुई थी।
अक्टूबर में शादी तय हुई थी मगर इससे पूर्व ही अमित की शहादत की खबर ने परिवार सहित पूरे प्रदेश में शोक की लहर दौड़ा दी है।

घुसपैठियों के साथ मुठभेड़ में 5 जवान शहीद

सेना की कार्रवाई में 5 घुसपैठिए भी मारे गए
जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में घुसपैठियों और सेना के बीच भीषण मुठभेड़ में 2 और जवान शहीद हो गए हैं. इसमें एक आर्मी ऑफिसर यानी कि जेसीओ भी शामिल हैं. इस मुठभेड़ में 5 घुसपैठिए भी मारे गए हैं.

पहले 3 फिर 2 जवान हुए शहीद
लाइन ऑफ कंट्रोल के पास हुए इस मुठभेड़ में शहीद होने वाले जवानों की पहचान हो गई है.
इनके नाम हैं हिमाचल प्रदेश के सूबेदार संजीव कुमार,
उत्तराखंड के हवलदार देवेंद्र सिंह,

हिमाचल प्रदेश के पैरा ट्रूपर बाल कृष्ण,
उत्तराखंड के पैरा ट्रूपर अमित कुमार
और राजस्थान के छत्रपाल सिंह.
सेना की जोरदार जवाबी कार्रवाई में 5 घुसपैठिए भी मारे गए हैं.

आर्मी ऑफिसर कर्नल राजेश कालिया ने कहा कि उत्तरी कश्मीर के केरन सेक्टर में सीमा पार से आतंकवादी घुसपैठ करने की कोशिश कर रहे थे, खराब मौसम और ऊंची पहाड़ियों के बावजूद सेना के जवानों ने घुसपैठियों का रास्ता रोका. इस दौरान दोनों ओर से जमकर फायरिंग हुई.

इस दौरान सेना का एक जवान मौके पर ही शहीद हो गया, जबकि 4 जवान घायल हो गए. चारों जवानों को तुरंत वहां से निकालकर अस्पताल में भर्ती कराया गया. इलाज के दौरान दो जवानों की अस्पताल में मौत हो गई. जबकि दो और जवानों की मौत देर रात को हुई.

सेना ने कहा कि घायल जवानों को घटनास्थल से निकालने में बेहद परेशानी हुई क्योंकि रास्ता बेहद उबड़-खाबड़ है और भारी बर्फबारी की वजह से रास्ते कई जगह बंद हैं.4 अप्रैल को भी 4 आतंकी हुए थे ढेर
बता दें कि 4 अप्रैल को दक्षिण कश्मीर के बटपुरा इलाके में सेना ने 4 आतंकियों को सेना ने ढेर किया था. ये आतंकी एक नागरिक की हत्या में शामिल थे. केरन सेक्टर में सेना ने इन आतंकियों को घेर लिया था. ये आतंकी जंगल पार कर कश्मीर के अंदर घुसना चाह रहे थे लेकिन सेना ने इनके मंसूबे नाकाम कर दिए.

वही

मुख्यमंत्री  त्रिवेंद्र  रावत ने जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में घुसपैठियों के मंसूबों को नाकाम करते हुए उत्तराखंड के दो वीर जवान देवेंद्र सिंह (रुद्रप्रयाग) और अमित कुमार (पौड़ी गढ़वाल) की शहादत को  नमन करते हुए  ईश्वर से शहीदों की आत्मा की शांति व परिजनों को संबल प्रदान करने की कामना की है। उन्होंने कहा कि सरकार शहीदों के परिजनों के साथ हर समय खड़ी है।

 


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here