उत्तराखंड के वित्तीय वर्ष 2020-21 का 53 हजार करोड़ रुपये का बजट बुधवार को बिना चर्चा के ही पास हो गया। आज सदन 57 मिनट तक चला, जिसके बाद अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया।
बता दे कि आज उत्तराखंड विनियोग विधयेक पास किया गया। सदन में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कोरोना वायरस की गंभीरता और राज्य की तैयारी के संबंध में जानकारी दी। बताया कि अब तक 50016 की स्क्रीनिंग में कोई कोरोना संक्रमण नही मिला है। पूरे राज्य को सील किया गया। 2082 की एयर पोर्ट पर स्क्रीनिंग की गई है। कहा कि रिस्पांस टीम लगातार काम कर रही है। लॉकडाउन के दौराान कोई भी गरीब खाद्यान्न से वंचित नहीं होगा।
वही इस दौरान सत्र में भाग लेने वाले विधायकों, अधिकारियों के लिए एडवाइजारी जारी की गई। इसमें उन्हें बताया गया है कि वे क्या करें और क्या नहीं। विधानसभा के प्रवेश द्वार पर आज सदस्यों, आगंतुकों, अधिकारियों-कर्मचारियों को सैनिटाइजर और मास्क उपलब्ध कराए गए। थर्मल स्कैनिंग के लिए मेडिकल टीम मौजूद रही। स्कैनिंग के बाद ही सदन में प्रवेश करने दिया गया।
इससे पहले मंगलवार को देर शाम हुई कार्यमंत्रणा समिति की बैठक में बुधवार को सदन में सिर्फ वित्त विनियोग विधेयक ही लेकर आना ही तय किया गया। विधानसभा में कार्यमंत्रणा समिति की बैठक में तय किया गया कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए एक ही दिन का सत्र आयोजित किया जाए।

शून्य काल और प्रश्नकाल भी नहीं हुआ।  बता दे कि सरकार ने भराड़ीसैंण में चार मार्च को बजट पेश किया था और बजट पर कुछ हद तक चर्चा भी हुई थी। प्रदेश सरकार इस बार लगभग 53 हजार करोड़ रुपये का राजस्व सरप्लस बजट लेकर आई थी

देहरादून

उत्तराखंड विधानसभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित।

आम बजट हुआ पास।

वित्तीय वर्ष 2020 – 21 का आम बजट हुआ पास।

53526.97 का बज़ट हुआ पास।


मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की आज सदन में बड़ी घोषणा घोषणा कॅरोना वायरस के लिए दिनरात जुटे हेल्थ कर्मी, पुलिस कर्मी, पर्यावरण मित्र, स्वास्थ्य कर्मी डॉक्टर्स , पत्रकारों का किया जाएगा बीमा।

 


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here