15 अगस्त के बाद उत्तराखंड़ मे सिर्फ होगी हड़ताल कही सगठन ओर मोर्चा एक साथ आयेगे नज़र!

डबल इज़न की सरकार मे भी अब आंदोलन की आहट सुनाई देने लगी है और इसके लिए ये सभी लोग राज्य की नोकरशाही को सवालों के घेरे में खड़ा कर रहे है आपको बता दे कि उत्तराखंड कार्मिक शिक्षक आउटसोर्सिंग संयुक्त मोर्चे के प्रवक्ता एच एस रावत ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि संयुक्त मोर्चे के विस्तारित कार्यकारिणी की बैठक ऑफिसर क्लब यमुना कॉलोनी देहरादून में की गई
बैठक के मुख्य संयोजक ठाकुर प्रह्लाद सिंह ने बताया कि दिनांक एक जून 2018 को हरिद्वार में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री के अनुरोध के दृष्टिगत सरकार को 45 दिन का समय दिया गया किंतु मुख्यमंत्री द्वारा गठित समिति के मुख्य सचिव उत्तराखंड शासन की अध्यक्षता में बैठक में लिए गए निर्णय पर विचार विमर्श कर पूर्ण एकतरफा कार्यवाही जारी कर दिया समिति द्वारा जारी कार्य वृत्ति में मुख्य सचिव उत्तराखंड शासन की अध्यक्षता में हुई बैठक में दिए गए निर्णय ही प्रभावी रहे ओर मुख्यमंत्री द्वारा दिए गए आश्वासन की पूरी तरह समिति द्वारा अनदेखी की गई है जिसके फलस्वरुप अब मोर्चा फिर आंदोलन का निर्णय ले चुका है
रवि पचौरी ने कहा कि मुख्यमंत्री के आश्वासन के क्रम मे सरकार को पूरा समय प्रदेश के कार्मिकों द्वारा दिया गया किंतु शासन में बैठे कर्मचारी विरोधी मानसिकता वाले अधिकारियों के कारण इस अवधि में कर्मचारियों का दृष्टि गत कोई भी सकारात्मक निर्णय नहीं किया गया यहां तक कि सातवें वेतन आयोग की भत्ते एवं शीतलीकरण का प्रस्ताव कैबिनेट में ले जाने की बावजूद अतिथि तक लंबित है

मोर्चे के संयोजक संतोष रावत ओर इंसानउल हक ने कहा कि मुख्यमंत्री के आश्वासन के विपरीत जाकर शासन के अधिकारी मुख्यमंत्री ओर प्रदेश के कर्मचारी के मध्य मतभेद पैदा करने में लगे हुए हैं जिस कारण बड़े आंदोलन होना अब संभावी है जिसकी पूर्ण जिम्मेदारी सरकार एवं शासन की होगी । हक ने ऊर्जा निगम के कर्मचारी एवं मोर्चा के संयोजक नाज़िम अली , बनवारी सिंह रावत ओर गोविंद सिंह नेगी ने चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के शत प्रतिशत भागीदारी का आश्वासन दिया इस प्रकार गजेंद्र कपिल ने प्रदेश के जल पूर्ति ठप करने एवं रामचंद्र रतूड़ी ने परिवहन निगम द्वारा चक्का जाम करने का भी आश्वासन मोर्चे की बैठक में दिया
शिक्षक नेता दिग्विजय सिंह चौहान , विनोद थापा , आर पी बागोड़ा , सोहन सिंह मंजिला ने मोर्चे का आश्वस्त किया कि प्रदेश के समस्त शिक्षक मोर्चा के आंदोलन में पूर्ण निष्ठा से प्रतिभाग करेंगे।
बैठक में राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद की ओर से अरुण पांडे एवं शक्ति प्रसाद भट्ट ने आश्वस्त किया कि परिषद के समस्त घटक संघ मोर्चा द्वारा घोषित आंदोलन में बढ़-चढ़कर भागीदारी करेंगे
उपनल कर्मचारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष दीपक सिंह चौहान एवं प्रदेश महामंत्री हेमंत सिंह रावत ने भी समस्त उपनल कर्मचारी जो कि राज्य के विभिन्न विभागों जैसे स्वास्थ्य ऊर्जा शिक्षा पेयजल नगर निगम वन ऐसे कहीं विभाग जो राज्य सरकार को अपनी सेवाए दे रहे है उनके द्वारा बढ़-चढ़कर आंदोलन भागीदारी करने का आश्वासन दिया गया

बैठक मैं राजकीय नर्सिंग एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती मीनाक्षी जखमोला एवं फार्मासिस्ट एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष SP सेमवाल ने भी मोर्चे को कहा कि समय आने पर स्वास्थ्य सेवाओं को बंद किए जाने का आश्वासन दिया
अब आंदोलन की रूप रेखा तैयार है जिसके चलते
(1) दिनांक 26 जुलाई 2018 से 2 अगस्त 18 तक जन जागरण कार्यक्रम का आयोजन
(२)दिनांक 3 8 2018 से अपराह्न 6:00 बजे से देहरादून में परेड ग्राउंड देहरादून से सचिवालय तक एवं समस्त जनपद मुख्यालय में कैंडल मार्च का आयोजन
(3)दिनांक 7 8 2018 से अपराह्न 6:00 बजे से देहरादून में परेड ग्राउंड देहरादून से सचिवालय तक एवं समस्त जिले मुख्यालयों में मशाल जुलूस का आयोजन
(4) दिनांक 17 8 2018 को राजधानी देहरादून में परेड ग्राउंड देहरादून से मुख्यमंत्री आवास तक प्रदेश स्तरीय विशाल जन आक्रोश रैली का आयोजन
(4)दिनांक 23 एक 2018 से 25 8 2018 तक तीन दिवसीय कार्य बहिष्कार
(5)दिनांक 27 8 2018 अनिश्चितकालीन हड़ताल की घोषणा ये लोग अब साफ कह चुके है कि जब तक अब
13 सूत्री मांग पत्र को सरकार पूरा नही करती तब तक आंदोलन जारी रहेगा
इस बैठक में ठाकुर सिंह, रवि पचौरी, संतोष रावत, रामचंद्र रतूड़ी, अरुण पांडे, प्रदीप कोहली, राकेश शर्मा, प्रदीप कंसल, राजेश श्रीवास्तव, भूपेंद्र रावत, अनिल मिश्रा, दिनेश गोसाई, राम बहादुर, ललिता शर्मा, हरदेव सिंह रावत, शक्ति प्रसाद भट्ट, हेमंत रावत, दीपक चौहान, नसीम सिद्दीकी, सोहन सिंह, मान जिला SP राणकोटी दिग्विजय सिंह चौहान, राजेन्द्र बागोड़ा, बनवारी सिंह रावत, गोविंद सिंह नेगी, मीनाक्षी जखमोला, P C सेमवाल, हेमचंद, मंजू बडोला, नाथू सिंह, बाबू खान, राकेश प्रसाद, कुलदीप शर्मा, नंदकिशोर, हर्ष मणि नौटियाल, सी पी रियाल, जी बी पंत, दीपक जोशी, गजेंद्र कपिल, कुलदीप पवार, गुड्डी मथुरा, इंसान उल हक, संदीप शर्मा, शिव प्रसाद भट्ट, जगमोहन सिंह रावत, कुलदीप सिंह पवार, प्रदीप शुक्ला, नरेंद्र सिंह रावत, बालम सिंह नेगी, प्रवीन रावत, नरेश शाह, बीएल रावत, रमेश बिजल्वाण, हरीश मोहन नेगी, ललिता नेगी, आदि कर्मचारी नेता अपने बात रख कर 15 अगस्त के बाद हड़ताल पर जाने का मन बना लिया है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here