दुःखद ख़बर
है आपको बता दे कि जस्सागांजा में सोमवार सुबह लगभग साढ़े सात बजे स्कूली बस की चपेट में आने से  मासूम की मौत हो गई दुःखद ये हादसा उस समय हुआ जब मासूम ने अपनी मां के साथ सड़क किनारे नल पर पानी भरने आया था।
वही इस हादसे के बाद गुस्साए लोगों ने सड़क पर शव रखकर रास्ता भी जाम किया ,
वही  पुलिस के समझाने पर जब ग्रामीण नहीं माने तो एसडीएम को घटनास्थल पर भी आना पड़ा
जानकारी अनुसार
बस चालक को गिरफ्तार किया जा चुका है , जानकारी मिली है कि मूलरूप से बहादरपुर मुरादाबाद के रहने वाले हरद्वारी पुत्र रमेश कई सालों से रामनगर में रहकर बागों की चौकीदारी करते है वह जस्सागांजा में कैलाश चंद्र के बाग में परिवार सहित रहता है।


ओर सोमवार सुबह लगभग साढ़े सात बजे हरद्वारी की पत्नी चांदनी अपने दो साल के बेटे विमल को लेकर पानी भरने सड़क किनारे लगे स्टैंड पोस्ट पर गई थी। जानकारी है कि उनका बेटा विमल वहीं सड़क किनारे खेल रहा था। इसी दौरान वहां से गुजर रही सेंट जोजफ पब्लिक स्कूल की बस ने विमल को कुचल दिया। ओर बच्चे की मौके पर ही मौत हो गई दुःखद इस हादसे के बाद चालक बस छोड़कर भाग गया। घटना से गुस्साए ग्रामीणों ने सड़क पर शव रखकर जाम लगा दिया। बाद मे चालक को गिरफ्तार कर लिया गया ।


वही मासूम विमल के पिता हरद्वारी ने मीडिया को बताया कि उसके चार बच्चे हैं। सबसे बड़ी बेटी राधा, उसके बाद अमित, पायल और सबसे छोटा विमल था। विमल छोटा होने के चलते सबका लाडला था। वह आंगनबाड़ी केंद्र में जाता था। बेटे की मौत से पूरा परिवार गमजदा है। कोतवाल रवि कुमार सैनी ने बताया कि परिजनों से तहरीर मिलने पर चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा दुःखद है घर के लाडले मासूम बेटे के जाने से घर पर कोहराम मचा हुवा है


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here