प्रदेश के सहकारिता, उच्च शिक्षा, दुग्ध विकास एवं प्रोटोकाॅल राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डाॅ0 धन सिंह रावत ने विधान सभा स्थित सभाकक्ष में नमामि गंगे योजना के अन्तर्गत पेयजल योजनाओं के संबंध में तथा श्रीनगर गढ़वाल सीवर लाईनों के कार्यो को लेकर समीक्षा बैठक ली।


उन्होंने कहा कि 32 करोड की लागत की ढिकाल गांव खिर्सू पम्पिंग योजना का लोकार्पण मुख्यमंत्री द्वारा 1 जनवरी, 2020 को किया जायेगा। इसका उद्देश्य सम्पूर्ण खिर्सू ब्लाक को 100 प्रतिशत पानी आच्छदित करना है।
श्रीनगर में कई क्षेत्रों में सीवर लाईन नहीं बिछी है उसके लिए कार्ययोजना बनाई गई है, इस संबंध में कार्ययोजना का प्रस्ताव भारत सरकार को भेजने का निर्देश भी दिया। इसके अतिरिक्त नमामि गंगे के तहत श्रीकोट के नाले को ट्रीटमेंट प्लांट से जोड़ने के लिए टेण्डर कराने के निर्देश दिये। श्रीनगर में नामामि गंगे योजना के अन्तर्गत 02 नये घाट भी बनाये जायेगे


बिडोलस्यू पावो पम्पिंग योजना के डीपीआर को संशोधित किया जायेगा, जिसका उद्देश्य क्षेत्र के समस्त गाॅवों को पेयजल आपूर्ति करना है।
बैठक में अब तक कुल कितनी सीवर लाईनें डाली गयी है और कितने परिवारों को सीवर लाईन से जोड़ा गया है तथा कितने परिवार अभी सीवर लाईन से जोडे जाने बाकी है एवं सीवर प्लांट की स्थिति क्या है इस बारे में भी जानकारी मांगी गई।
इस बैठक में सचिव पेयजल अरविंद सिंह ह्यांकी, प्रबन्ध निदेशक पेयजल भजन सिंह एवं नामांमि गंगे के जी.एम. प्रभात मौजूद थे।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here