त्रिवेंद्र सरकार का रैबार (आवा आपुण घौर) टिहरी झील किनारे जुटेगी बडी हस्तियां एनएसए अजीत डोभाल, जनरल बिपिन रावत , उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ओर बहुत कुछ ख़ास

434

उत्तराखंड राज्य स्थापना सप्ताह समारोह मना रही है त्रिवेंद्र सरकार।
3 तारीख को टिहरी झील किनारे होने जा रहा है ‘रैबार’ सम्मेलन
एनएसए अजीत डोभाल, जनरल बिपिन रावत , उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भेजा जा चुका है न्योता।
यहा जुटेगी बडी हस्तियां
टिहरी झील किनारे कोटी कोलोनी में आयोजित होगा कार्यक्रम ।


त्रिवेंद्र सरकार का मकसद टिहरी झील को विश्वस्तर पर नए साहसिक पर्यटन स्थल की मिले पहचान । त्रिवेंद्र सरकार यहा से देगी विकास और स्वरोजगार का संदेश ।
त्रिवेंद्र सरकार की सराहनीय पहल पर इस बार का “राज्य स्थापना दिवस” होगा बेहद खास।

● 03 नवंबर 2019–रैबार कार्यक्रम–टिहरी गढ़वाल
● 04 नवंबर 2019–सैनिक सम्मेलन–देहरादून
● 06 नवंबर 2019–महिला सम्मेलन–श्रीनगर गढ़वाल
● 07 नवंबर 2019–युवा सम्मेलन–अल्मोड़ा
● 08 नवंबर 2019–फ़िल्म कॉन्क्लेव–मसूरी
● 09 नवंबर 2019–भारत-भारती कार्यक्रम–

त्रिवेंद्र सरकार रैबार (आवा आपुण घौर) ख़ास कार्यक्रम के से टिहरी झील को विश्वस्तर पर नए साहसिक पर्यटन स्थल की पहचान दिलाने की कवायद में जुट गई है।
ओर इस रैबार के माध्यम से ही देश की महान हस्तियां तीन नवंबर को टिहरी में पर्यटन विकास और स्वरोजगार का संदेश देती नज़र आएगी।


ख़ास बात ये है कि ऐसा पहली बार होगा, जब देश की नामी-गिरामी हस्तियां टिहरी झील किनारे कोटीकालोनी में एक साथ मंच साझा करेंगे।
आपको बता दे कि 42 वर्ग किमी क्षेत्र में फैली टिहरी झील को नया साहसिक पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत का विशेष फोकस है ।
इससे पहले मई 2018 को भी टिहरी झील के ऊपर फ्लोटिंग मरीना में सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार ने कैबिनेट बैठक कर झील को नया पर्यटक डेस्टिनेशन बनाने की कवायद की थी।


इस रैबार कार्यक्रम मैं अंतरराष्ट्रीय स्तर की ख्यातिप्राप्त उत्तराखंड की महान हस्तियां भी एक ही मंच पर राज्य के भविष्य के बारे में चर्चा करती नज़र आएगी।
साहसिक खेल अकादमी में उत्तराखंड की दिशा और दशा पर मंथन व राज्य में पर्यटन को बढ़ावा देने की योजनाओं पर गहन मंथन किया जाएगा।
इस रैबार कार्यक्रम में प्रशासन ने सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, थल सेनाध्यक्ष जनरल बिपिन रावत, पूर्व डीजीएमओ लेफ्टिनेंट अनिल भट्ट, प्रधानमंत्री के सचिव भास्कर खुल्बे, एयर इंडिया के अध्यक्ष और एमडी अश्विनी लोहानी, केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डा. रमेश पोखरियाल निशंक, रॉ के पूर्व प्रमुख अनिल धस्माना और हंस फाउंडेशन की माता मंगला को न्योता दिया है।
आपको बता दे कि ये सभी हस्तियां अपने उत्तराखंड से ही हैं जिन्होंने अपने-अपने क्षेत्रों में देश-दुनिया में राज्य का नाम रोशन किया है जब बात रैबार की हो तो मेहमानो को भोजन मै भी हमारा
भोज में फांणा, चौंसा, मंडुवे की रोटी दी जाएगी।
तो मीठे में टिहरी की प्रसिद्ध सिंगोरी मिठाई और झंगोरे की खीर दी जाएगी
तो आइये ना आप भी आवा आपुण घौर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here