बधाई हो दो से अधिक बच्चे वाले भी लड़ सकेगे पंचयात चुनाव, उत्तराखंड हाइकोर्ट का फैसला

324

25 जुलाई 2019 के बाद अगर तीसरा बच्चा हुआ है, तो होंगे अयोग्य।

देहरादून। दो बच्चों से अधिक वालों के लिए जोत सिंह बिष्ट लेकर आये हैं खुशखबरी। जी हां नैनीताल हाईकोर्ट के बड़े फैसले के बाद 25 जुलाई 2019 तक 3 संतान वाले भी लड़ सकेंगे पंचायत चुनाव। इस फैसले के मुताबिक 25 july 2019 के बाद जिनके तीन बच्चे है, वो नही लड़ पाएंगे, अर्थात 25 जुलाई 2019 तक जिनके 3 बच्चे है, वो लड़ सकते है पंचायत चुनाव। उत्तराखण्ड कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जोत सिंह बिष्ट ने इस बात की जानकारी दी है।

मामले के अनुसार नया गांव कालाढूंगी निवासी मनोहर लाल आर्या, जोत सिंह बिष्ट, घोषिया रहमान सहित कई अन्य लोगों ने अलग अलग याचिका दायर कर कहा था कि राज्य सरकार की ओर से 2019 में पंचायती राज एक्ट में संशोधन कर दो बच्चे से अधिक बच्चे वाले उम्मीदवारों को चुनाव लड़ने से रोका जा रहा है जो कि गलत है। याचिका में कहा था कि सरकार की ओर से इस संशोधन को बदलाव के बाद पिछली डेट से लागू कराया जा रहा है, यह नियम विरुद्ध है।

याचिकाकर्ताओं का यह भी कहना था कि अगर किसी एक्ट में बदलाव किया जाता है तो उसको लागू करने से पूर्व 300 दिन का ग्रेस पीरियड दिया जाता है,लेकिन राज्य सरकार की ओर से यह ग्रेस पीरियड नहीं दिया गया। याचिकाकर्ताओं का कहना था कि सरकार के दो बच्चों से अधिक के व्यक्ति के चुनाव लड़ने वाले बदलाव के बाद पहाड़ी क्षेत्रों में प्रधान के उम्मीदवार मिलना मुश्किल हो जाएगा।

साथ ही याचिका में हाई स्कूल पास होने की बाध्यता को भी चुनौती दी गई है। एक्ट के संशोधन में यह भी कहा गया है कि को-ऑपरेटिव सोसायटी के सदस्य भी दो से अधिक बच्चे होने के कारण चुनाव नही लड़ सकते हैं, लेकिन गांवों में प्रत्येक सदस्य किसी न किसी को-ऑपरेटिव सोसायटी का सदस्य होता है। इस तरह से तो पहाड़ी राज्य होने के कारण पहाड़ में ग्राम प्रधान का सदस्य चुनना या मिलना मुश्किल हो जाएगा

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here