राज्यसभा सदस्य और भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख पहाड़ पुत्र अनिल बलूनी ने कल केंद्रीय राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से भेंट कर उत्तराखंड के रामनगर बुवाखाल हाईवे पर मोहान के निकट धनगढ़ी स्थित नाले के ऊपर पुल बनाने की मांग की। वही गडकरी ने तत्काल संबंधित अधिकारियों को शीघ्र कार्रवाई का निर्देश दिया। बता दे कि सांसद बलूनी ने मंत्री को गत सरकार में रामनगर और ऋषिकेश में अत्याधुनिक बस पोर्ट के निर्माण की सहमति भी याद दिलायी जिस पर मंत्री जी ने शीघ्र कार्रवाई कर अवगत कराने को कहा।

सांसद बलूनी ने कहा कि रामनगर- मोहान के मध्य धनगढ़ी नामक स्थान पर हर साल बरसात के समय दुर्घटनाएं होती है। इस वर्ष भी बरसात में अनेक वाहन बह गये व तीन व्यक्तियों की मौत हो गई। एनएच 309 पर स्थित यह नाला गढ़वाल- कुमाऊं को रामनगर से जोड़ने वाले महत्वपूर्ण मार्ग पर स्थित है। बरसात के दौरान यात्रियों को कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। उत्तराखण्ड एनएच से भी प्राप्त इस प्रस्ताव को वार्षिक योजना में शामिल किया गया है। वहीं पहाड़ बलूनी ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का आभार व्यक्त किया कि इस महत्वपूर्ण समस्या का उन्होंने तत्काल समाधान कर एक पुल की स्वीकृति का आश्वासन दिया है। अपेक्षा है शीघ्र ही इस पुल के निर्माण से संबंधित प्रक्रिया प्रारंभ हो जाएंगी।
बहराल अनिल बलूनी कर रहे है धमाल ओर दूसरी तरफ कांग्रेस सरकार के दौरान उत्तराखंड से राज्य सभा सांसद बनाये गए राजबब्बर पर अब खुद कांग्रेसियों का गुसा फूटने लगा है जी हां पूर्व राज्य सभा सांसद रही स्वर्गीय मनोरम डोबरियाल शर्मा की पुत्र वधु आशा मनोरम डोबरियाल ने खुल कर आरोप लगाया है कि सांसद राजबब्बर राज्य के लिए कुछ भी नही कर रहे है ।जो राज्य के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है। हमने सोचा था कि वो स्वर्गीय सांसद रही मनोरमा जी के कामो को उनके सपनों को पूरा करेंगे पर ऐसा कुछ भी नही हो रहा है ।जिससे वो नाराज़ दिखाई दिए तो बहुत से कांग्रेस के नेता राज्य सभा सांसद प्रदीप टम्टा ओर राजबब्बर दोनों पर ही उठने वाले सवालो के जवाब देने से इधर उधर हो जाते है।तो कुछ इनका बचाव करने की कोशिश भी करते है पर कड़वा सच यही निकल आता है कि सांसद राजबब्बर ने कांग्रेस के लोगो के साथ साथ प्रदेश की जनता को भी निराशा किया है।


लोग ये कह रहे है कि कोई भी ये बता दे कि राजबब्बर ने राज्य सभा सांसद बनने के बाद अब तक क्या प्रयास किया राज्य हित के लिए , क्या कुछ है उनका अब तक का काम काज उत्तराखंड के बतौर राज्य सभा सांसद तो जवाब किसी के पास नही, ओर यही हाल सांसद प्रदीप टम्टा का है।
इसलिए पहाड़ पुत्र बलूनी जी आपका बहुत बहुत धन्यवाद ।
आपने ही राज्य की जनता को बताया है कि राज्य सभा सांसद अगर चाहे , अगर उसका विजन हो, तो वे जनहित के कार्यो के लिए हर स्तर से प्रयास कर सकता है और लगातार तर्क के साथ प्रयास करने पर सफलता भी मिलती है। राज्य सभा सांसद अपनी पूरी सांसदनिधि का भी महत्वपूर्ण उपयोग स्वास्थ्य, शिक्षा , जैसे कही क्षेत्रो उपयोग कर अपनी भागीदारी निभाता है । ओर संसद मैं राज्य से जुड़े महत्वपूर्ण मुद्दों पर सवाल रखता है, करता है , संसद को अवगत करता है । ओर भी बहुत कुछ।
जो हमको ना दिखाई देता है ना सुनाई देता है सांसद राजबब्बर ओर प्रदीप टम्टा के कामकाज को लेकर।
ये सच है कि उत्तराखंड को राज्य के सांसदों ने लगातार निराश किया है
ओर आज पूरा उत्तराखंड कह रहा है कि राज्य के सभी सांसदों पर पहाड़ पुत्र अनिल बलूनी भारी क्योंकि वो
बतौर सांसद जिस तरह से  उत्तराखंड के विकास के  लिए  प्रयासरत है । इस प्रकार उन्होंने किसी दुसरे सासंदो को नहीं देखा।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here