आपको बता दे कि अभी मौसम की वजह से केदारनाथ धाम मैं हवाई सेवाएं बंद है ।ओर आगमी 10 सितंबर से ये हवाई सेवाएं फिर से आरम्भ होने जा रही है। वही अब त्रिवेंद्र सरकार ने केदारनाथ धाम के हेली सेवाओं के टिकटों की कालाबाजारी रोकने के लिए सरकार ने ऑनलाइन बुकिंग सिस्टम अपने पास ले लिया है। अब माना जा रहा है कि इससे हेली कंपनियों और ट्रैवल एजेंटों की मनमानी पूरी तरह खत्म हो जाएगी।
बता दे कि ऑनलाइन टिकट बुकिंग कराने के लिए एजेंटों को पहले उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद् में पंजीकरण करना होगा। इसके साथ ही सरकार ने प्रति यात्री के हिसाब से 100 रुपये सेवा शुल्क भी निर्धारित कर दिया है
वही भगवान बाबा केदार के दर्शन के लिए जाने वाले यात्री स्वयं भी heliservices.uk.gov.in पर हेली सेवा के ऑनलाइन टिकट बुक करा सकते हैं। बता दे कि नागरिक उड्डयन विभाग ने सात अगस्त से ऑनलाइन बुकिंग शुरू कर दी है।
अभी तक तीन दिनों में एक हज़ार से अधिक यात्रियों की गुप्तकाशी, फाटा और सिरसी हेलीपैड से बुकिंग की गई।
वही दूसरे चरण में केदारनाथ धाम की हेली सेवाएं 10 सितंबर से संचालित की जाएगी। जिन यात्रियों की टिकट बुकिंग की है, वे यात्रा आरंभ होने के 24 घंटे पहले तक टिकट रिफंड भी कर सकते हैं। वही मीडिया को सचिव नागरिक उड्डयन दिलीप जावलकर जी ने बताया कि लगभग 70 प्रतिशत टिकटों की बुकिंग ऑनलाइन की जाएगी। तो वहीं 30 प्रतिशत टिकटों की बुकिंग काउंटर से मौके पर होगी। इसके लिए गुप्तकाशी में एक और फाटा में दो टिकट काउंटर स्थापित किए जाएंगे।
वही सिरसी मे  इंटरनेट सेवा सुचारु न होने से सिरसी हेलीपैड की ऑन द स्पॉट बुकिंग फाटा में स्थापित दूसरे काउंटर से की जाएगी। नई व्यवस्था लागू होने से यात्रियों को बुकिंग के समान अवसर प्राप्त हो सकेंगे   बहराल आप भी तैयार हो जाये केदारनाथ बाबा के दर्शन के लिए  आइये बाबा के धाम बुलावा बाबा का आया है।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here