सहकारी समिति ने अपनी मांगांे को लेकर शुरु की हड़ताल

सहकारी समिति ने अपनी मांगांे को लेकर शुरु की हड़ताल

देहरादून । साधन समिति सचिव परिषद उत्तराखंड एवं आंकिक कर्मचारी संगठन साधन सहकारी समिति उत्तराखंड ने अपनी मांगों के समाधान के लिए सरकार से मोर्चा लेते अनिश्चितकालीन कलमबंद हड़ताल आरंभ कर दी है और कहा कि अब आर पार का आंदोलन चलाया जायेगा।
यहां परेड ग्राउंड स्थित धरना स्थल पर साधन समिति सचिव परिषद उत्तराखंड एवं आंकिक कर्मचारी संगठन साधन सहकारी समिति उत्तराखंड ने अपनी मांगों के समाधान के लिए सरकार से मोर्चा लेते अनिश्चितकालीन कलमबंद हड़ताल आरंभ कर दी है और कहा कि अब आर पार का आंदोलन चलाया जायेगा। इस अवसर पर संरक्षक राजपाल तोमर ने कहा कि लगातार अपनी मांगों के समाधान के लिए संघर्ष किया जा रहा है लेकिन लगातार आश्वासन दिये जाने के अलावा किसी भी प्रकार की ठोस कार्यवाही नहीं की जा रही है। उनका कहना है कि कैडर सचिवों की सेवाओं का सरकारीकरण कर वेतन की स्थाई व्यवस्था की जानी चाहिए और अभी इस ओर किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं की गई है जिससे रोष बना हुआ है।
एक जनवरी 2016 से कैडर सचिवों को सातवें वेतनमान का लाभ दिया जाये, इस ओर भी आज तक किसी भी प्रकार की कोई नहीं हुई है। कैडर सचिवों का ग्रेड वेतन 2899 रूपये किया जाये और यह मांग लंबे समय से उठाई जा रही है लेकिन कार्यवाही नहीं हो पा रही है। उनका कहना है कि समिति कर्मचारियों की प्रमुख मांगों में पैक्स कैडर सचिवों के खाली पदों पर आंकिकों की पदोन्नति की जाये, केवल आश्वासन मिले लेकिन कार्यवाही नहीं हो पाई है। उनका कहना है कि समितियों के व्यवसायों के अनुसार कर्मचारियों का वर्गीकरण कर राज्य सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम वेतनमान लागू किया जाये और समिति कर्मचारियों का जिला कैडर बनवाया जाये। उनका कहना है कि लगातार संघर्षरत होने के बावजूद भी उनकी मांगों पर किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं कर पा रही है। इस अवसर पर अनेक वक्ताओं ने संबोधित किया। इस अवसर पर संरक्षक राजपाल तोमर, यदुवीर यादव, बिजेन्द्र शर्मा, हहर्षमणि नौटियाल, लक्ष्मण सिंह रावत, विजय सिंह चैहान, जय सिंह राणा, श्याम पाल यादव, आर एस मेंगवाल, धर्मेन्द्र मल्ल, देवेन्द्र लाल आर्य, मनोज ,खेतवाल आदि मौजूद थे।
देहरादून, आजखबर। साधन समिति सचिव परिषद उत्तराखंड एवं आंकिक कर्मचारी संगठन साधन सहकारी समिति उत्तराखंड ने अपनी मांगों के समाधान के लिए सरकार से मोर्चा लेते अनिश्चितकालीन कलमबंद हड़ताल आरंभ कर दी है और कहा कि अब आर पार का आंदोलन चलाया जायेगा।
यहां परेड ग्राउंड स्थित धरना स्थल पर साधन समिति सचिव परिषद उत्तराखंड एवं आंकिक कर्मचारी संगठन साधन सहकारी समिति उत्तराखंड ने अपनी मांगों के समाधान के लिए सरकार से मोर्चा लेते अनिश्चितकालीन कलमबंद हड़ताल आरंभ कर दी है और कहा कि अब आर पार का आंदोलन चलाया जायेगा। इस अवसर पर संरक्षक राजपाल तोमर ने कहा कि लगातार अपनी मांगों के समाधान के लिए संघर्ष किया जा रहा है लेकिन लगातार आश्वासन दिये जाने के अलावा किसी भी प्रकार की ठोस कार्यवाही नहीं की जा रही है। उनका कहना है कि कैडर सचिवों की सेवाओं का सरकारीकरण कर वेतन की स्थाई व्यवस्था की जानी चाहिए और अभी इस ओर किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं की गई है जिससे रोष बना हुआ है।
एक जनवरी 2016 से कैडर सचिवों को सातवें वेतनमान का लाभ दिया जाये, इस ओर भी आज तक किसी भी प्रकार की कोई नहीं हुई है। कैडर सचिवों का ग्रेड वेतन 2899 रूपये किया जाये और यह मांग लंबे समय से उठाई जा रही है लेकिन कार्यवाही नहीं हो पा रही है। उनका कहना है कि समिति कर्मचारियों की प्रमुख मांगों में पैक्स कैडर सचिवों के खाली पदों पर आंकिकों की पदोन्नति की जाये, केवल आश्वासन मिले लेकिन कार्यवाही नहीं हो पाई है। उनका कहना है कि समितियों के व्यवसायों के अनुसार कर्मचारियों का वर्गीकरण कर राज्य सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम वेतनमान लागू किया जाये और समिति कर्मचारियों का जिला कैडर बनवाया जाये। उनका कहना है कि लगातार संघर्षरत होने के बावजूद भी उनकी मांगों पर किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं कर पा रही है। इस अवसर पर अनेक वक्ताओं ने संबोधित किया। इस अवसर पर संरक्षक राजपाल तोमर, यदुवीर यादव, बिजेन्द्र शर्मा, हहर्षमणि नौटियाल, लक्ष्मण सिंह रावत, विजय सिंह चैहान, जय सिंह राणा, श्याम पाल यादव, आर एस मेंगवाल, धर्मेन्द्र मल्ल, देवेन्द्र लाल आर्य, मनोज ,खेतवाल आदि मौजूद थे।

Leave a Reply