यूकेडी ने बाबा मथुरा प्रसाद बमराड़ा को श्रद्धांजलि अर्पित की   

देहरादून । उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय कार्यालय में उत्तराखंड राज्य निर्माण के पुरोधा वरिष्ठ राज्य आंदोलनकारी स्वर्गीय बाबा मथुरा प्रसाद बमराड़ा को एक शोक सभा का आयोजन करके श्रद्धांजलि अर्पित की गई।
  उत्तराखंड क्रांति दल महानगर के प्रमुख नेता केंद्रीय कार्यालय में एकत्रित हुए तथा बाबा बमराड़ा के निधन की खबर को शासन प्रशासन द्वारा दबाए जाने तथा आनन फानन में चंदा करके दाह संस्कार करवाए जाने पर रोष प्रकट किया। इस अवसर पर दल के संरक्षक बीडी रतूड़ी ने कहा कि सरकार एक ओर जहां राज्य आंदोलनकारियों के चिन्हिकरण एवं कल्याण के झूठे दावे कर रही है, वहीं राज्य आंदोलन के अग्रिम पंक्ति के नेताओं का गुपचुप तरीके से अंतिम संस्कार करके राज्य हित में किए गए उनके प्रयासों को गुमनाम दफन करने का प्रयास कर रही है। दल के केंद्रीय प्रवक्ता शांति प्रसाद भट्ट ने मांग की है कि सारा जीवन राजधानी गैरसैंण तथा राज्य निर्माण आंदोलन के साथ राष्ट्रीय पार्टियों की नीतियों के विरोध में संघर्ष करते हुए प्राण त्यागने वाले बाबा बमराड़ा को शहीद का दर्जा व उनके परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जानी चाहिए। दल के महानगर अध्यक्ष संजय क्षेत्री ने कहा कि 1979 में उत्तराखंड क्रांति दल के जन्म के साथ शुरू हुए राज्य आंदोलन मे राज्य गठन तक प्रदेश के लाखों युवा शामिल हुए थे।उनमें से हजारों युवा आज जीवन के अंतिम पड़ाव पर है तथा अनेक प्रकार की बीमारियों व आर्थिक तंगी से गुजर रहे हैं। सरकार के मन में यदि वास्तव में आंदोलनकारियों के कल्याण की मंशा है तो जीवन के अंतिम दौर में गुजर रहे आंदोलनकारियों की  तत्काल सुध लेनी चाहिए।
अपने 9 माह के कार्यकाल में जहां राज्य के मुखिया त्रिवेंद्र सिंह रावत 68 लाख रूपय की चाय बिस्किट खा चुके हैं  और  साढे छह करोड़ रुपए अपनी हवाई यात्राओं पर  उड़ा चुके हैं। उस सरकार द्वारा बाबा बमराड़ा का गुपचुप तरीके से दाह संस्कार किया जाना इस बात का प्रमाण है कि प्रदेश सरकार आंदोलनकारियों के प्रति किए गए गलत व्यवहार पर पर्दा डालने का प्रयास कर रही है। इस अवसर पर शोक सभा के अंत में बाबा बमराड़ा को श्रद्धांजलि देते हुए दो मिनट का मौन रखा गया, और उनके बताये हुए रास्तों पर चलने का संकल्प लिया गया। इस अवसर पर श्रद्धांजलि देने वालों में दल के संरक्षक बी डी रतूड़ी, केंद्रीय प्रवक्ता शांति प्रसाद भट्ट, केंद्रीय महामंत्री जय प्रकाश उपाध्याय,वरिष्ठ नेता लताफत हुसैन,महानगर अध्यक्ष संजय क्षेत्री केंद्रीय उपाध्यक्ष एन के गुसांई, राजेंद्र सिंह रावत, गौरव उनियाल, ललित कुमार, प्रताप कुंवर ,विजय क्षेत्री ,विजेंद्र रावत ,मनोज कुमार, सुरेंद्र बुटोला, माला थापा, अंजना थापा आदि शामिल थे।

Leave a Reply