प्राचीन काल की एंटिक मूर्ति बताकर मोटी ठगी का प्रयास, पांच आरोपी गिरफ्तार

देहरादून। प्राचीन काल की अष्टधातू की मूर्ति बताकर ठगी किए जाने का मामला प्रकाश मंे आया है। पीड़ित द्वारा पुलिस को दी गयी तहरीर के बाद मामला दर्ज कर प्रेमनगर पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपियों पास से मूर्ति सहित चार हजार की नकदी बरामद की है। पुलिस ने  आरोपियों के खिलाफ संबधित धाराओं में मामला दर्ज लिया है।
जानकारी के अनुसार वेद कुमार पुत्र स्व० शाम लाल निवासी प्रेमनगर ने थाने में सूचना दी की 6-7 दिन पहले मुमताज नाम का व्यक्ति, जो कि सहारनपुर जिले का रहने वाला है, उनके सम्पर्क में आया और बताया कि उनके जानने वाला उनका दोस्त खुराना, जो कि करनाल का रहने वाला है, के पास एक प्राचीन काल की अष्टधातू (एन्टीक पीस) की शिव परिवार की मूर्ति है, जिसकी कीमत लगभग 25 करोड़ रुपए है और मै उसको आपको 4 करोड़ में दिलवा दूंगा। मूर्ति के सारे कागजात और वेरिफाई सर्टिफिकेट भी आपको मिल जायेगे। इस तरह का विश्वास दिलवाकर मुमताज ने बतौर एंडवास पचास हजार रूपए पीड़ित से लिए। बीते रोज मुमताज अपने 4 साथियों के साथ आया और एक शिव परिवार की मूर्ति मुझे दिखाई। मूर्ति के कागजात मेरे द्वारा मांगे जाने पर वो बहानेबाजी करने लगे और बोले कि इसके कागजात हम घर भूल आये हैं जल्दी दे देगे आप पेमेन्ट कर दो। उनकी इस बहानेबाजी व जल्दबाजी पर वादी वेदपाल को शक हुआ कि ये लोग उसके साथ ठगी कर रहे हैं। वेदपाल के द्वारा पुलिस को सूचना व तहरीर दी गयी जिस पर पुलिस द्वारा कार्यवाही करते हुये थाना प्रेमनगर पर धोखाधड़ी का अभियोग पंजीकृत करते हुये पांचांे आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के पास से मूर्ति व चालीस हजार की नकदी बरामद की गयी। पुलिस के अनुसार पकड़े गए आरोपी एंटिक मूर्तियों को सस्ते में मिलना बताकर लोगों से ठगी किया करते थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here