दून पुलिस ने ’अन्तर्राज्यीय शराब तस्कर दबोचा’

देहरादून। थाना चण्डी मन्दिर पंचकुला, हरियाणा व ऋषिकेश से ईनामी शराब तस्कर सन्नी को पकडने के लिए एसओजी ने जाल बिछाया और धोखाधडी तथा शराब तस्करी में मास्टर कुख्यात अन्तर्राज्जीय तस्कर को एसओजी ने ऋषिकेश पुलिस के साथ मिलकर पटेलनगर इलाके से गिरफ्तार कर लिया। जिसने पुलिस के सामने कई चैकाने वाले राज बताये हैं। वर्षों से फरार चल रहे ईनामी तस्कर के पकडे जाने के बाद पुलिस अफसरों ने राहत की सांस ली है। पुलिस के हत्थे चढे तस्कर पर २६ अपराधिक मुकदमें कुछ राज्यों में दर्ज हैं।’
मिली जानकारी के अनुसार जनपद देहरादून एव ऋषिकेश एवं विभिन्न राज्यों में लम्बे समय से शराब तस्करी में वांछित अभियुक्त सन्नी गाँधी के गिरफ्तारी के लिए पुलिस कप्तान निवेदिता कुकरेती ने एसओजी प्रभारी पी.डी. भट्ट को टास्क सौंप रखा था जिसके चलते एसओजी प्रभारी अपनी टीम के साथ इस ईनामी अन्तर्राज्जीय तस्कर को पकडने के लिए जाल बिछाये हुए थे। अन्तर्राज्जीय शराब तस्कर विगत कई वर्षों से वांछित चल रहा था तथा थाना चण्डी मंदिर पंचकुला, हरियाणा से वर्ष २०१३ से शराब तस्करी एवं धोखाधडी के मामले में उद्घोषित अपराधी था उपरोक्त अभियुक्त के अपराध को गम्भीरता से लेते हुए जनपद की पुलिस कप्तान ने वांछित एवं इनामी अपराधी सन्नी गाँधी की गिरफ्तारी के लिए एसओजी प्रभारी व कोतवाली ऋषिकेश के नेतृत्व में मैदान में उतारा। संयुक्त टीम ने सन्नी की गिरफ्तारी के लिए ऋर्षिकेश रायवाला, रानीपोखरी, डोईवाला एवं देहरादून शहर में सभी थाना क्षेत्र में सघन रूप से सुरागरसी -पतारसी की, एवं सर्विलांस के टीम द्वारा अभियुक्त के सभी मोबाईल लिकों का विशलेषण किया गया और अभियुक्त के पुराने ठिकानों का पता लगाया गया जब पुलिस की संयुक्त टीम सुरागरसी-पतारसी करते हुए थाना पटेलनगर क्षेत्र में मामूर थी तभी मुखविर खास ने आकर बताया कि जिस व्यक्ति की आपको तलाश है वह मिखिलेश नि० आफिसर कालोनी, चन्द्रमणी पटेलनगर, देहरादून में रहता है। मुखविर की सूचना पर भुत्तोवाला चैक थाना पटेलनगर से बीते रोज अभियुक्त सन्नी गाँधी पुत्र अशोक कुमार गाँधी नि० शान्ति नगर ऋर्षिकेश की को गिरफ्तार किया गया। अभियुक्त के विरूद्ध दिल्ली, हरियाणा, टिहरी गढ़वाल, ऋर्षिकेश देहरादून के लगभग 20 मुकदमें पंजीकृत है अभियुक्त थाना चण्डी मंदिर पंचकुला हरियाणा का वर्ष 2013 से उदघोषित अपराधी है। एसओजी की टीम ने जिस तरह से इस ईनामी को सलाखों के पीछे पहुंचाया है उससे पुलिस अफसरों ने राहत की सांस ली है।

Leave a Reply