तहसील दिवस में 28 शिकायतों में से छह का निस्तारण

तहसील बसुकेदार में आयोजित तहसील दिवस में कुल 15 शिकायतें दर्ज की गई। जिसमें पांच शिकायतों का मौके पर निस्तारण किया गया। एडीएम ने शेष शिकायतों के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्धारित समय सीमा के भीतर निस्तारित करने के निर्देश दिए।1राइंका बसुकेदार में आयोजित तहसील दिवस अपर जिलाधिकारी तीर्थपाल सिंह की अध्यक्षता में हुआ। तहसील दिवस में ग्रामीण दरबान सिंह ने बताया कि पिछले तहसील दिवस में उनकी ओर से प्रधानमंत्री आवास को लेकर शिकायत दर्ज की थी, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई।

राइंका बसुकेदार के प्रधानाचार्य ने विद्यालय में पानी की समस्या के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि पेयजल सुविधा न होने से छात्र-छात्रओं को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जिस पर अपर जिलाधिकारी ने जल संस्थान को तत्काल कार्रवाई के निर्देश दिए। ग्रामीण जयपाल सिंह नेगी ने कौशलपुर में पेयजल समस्या के बारे में बताया कि गांव में पानी की पर्याप्त आपूíत नहीं हो रही है। ग्रामीण विमल चंद्र शुक्ला ने कहा कि पूर्व में सचल चिकित्सा वाहन महीने एक बार गांवों में जाता था, लेकिन पिछले लंबे समय से सेवा बंद पड़ी हुई है।

उन्होंने पुन: सचल चिकित्सा सेवा शुरू करने की मांग की। इसके साथ ही उन्होंने नागजगई में एएनएम सेंटर खोलने, क्षेत्र में जगली जानवरों के आतंक से निजात दिलाने के साथ ही वन पंचायतों में हो रहे अवैध अतिक्रमण पर रोक लगाने की मांग की। ग्रामीण राजेश्वरी देवी डालसींगी ने शिकायत की कि उन्हें अभी तक राशन कार्ड उपलब्ध नहीं हो सका है, जबकि कईं बार विभाग कार्यालय के चक्कर काट चुकी है।

जिस पर पूíत अधिकारी ने तत्काल कार्रवाई की बात कही। ग्रामीण मदन सिंह निवासी क्यार्क बरसूड़ी ने बताया कि वर्ष 2011 में आपदा से मकान क्षतिग्रस्त हो गया था, लेकिन अभी तक उन्हे मुआवजा नहीं मिल पाया है, जिससे आज भी उनका परिवार खतरे की जद में है। जिस पर एडीएम ने राजस्व उप निरीक्षक चंद्रापुरी और ईई लोनिवि को कार्रवाई के निर्देश दिए। एडीएम तीर्थपाल सिंह ने कहा कि अधिकारी जनता की शिकायतों को समय से निस्तारित करें। कहा कि पिछले तहसील दिवस की कई शिकायतो पर अभी तक कार्यवाही नहीं हुई है, संबंधित विभागीय अधिकारी तत्काल संज्ञान लें।

Leave a Reply